क्रिकेट का इतिहास व रोचक तथ्य | History of Cricket in Hindi

आज के इस लेख में हम एक बेहद ही रोमांचक खेल के बारे में बात करने वाले हैं जिसका नाम क्रिकेट है, भारत में क्रिकेट एक बेहद लोकप्रिय खेल है। आज हम आपकों क्रिकेट के इतिहास व रोचक तथ्यों (History of Cricket in Hindi) के बारें में बताएंगें ।

आज की तारीक में भारत ही नहीं पूरे देश का बच्चा-बच्चा क्रिकेट को पसंद करता है और अपने मनपसंद खिलाड़ी जैसा खेलना चाहता है।

भारत में ही कोई विराट कोहली कोई सचिन तो कोई एबी डिविलियर्स की तरह क्रिकेटर बनना चाहता है। भारत में क्रिकेट इतना ज्यादा लोकप्रिय है कि यह हर दिन हर गली मोहल्ले में खेला जाता है। इसके साथ-साथ यह और भी देशों जैसे दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड, श्रीलंका, वेस्टइंडीज, साउथ अफ्रीका, मे भी खेला जाता है।

आज के दिनों में क्रिकेट भारतीय के लिए सिर्फ एक खेल नहीं वह उनके दिनचर्या का एक हिस्सा बन गया है। आज के समय में क्रिकेट लाखों करोड़ों हिंदुस्तानियों के दिल में बसने वाला एक बहुत ही प्रचलित खेल बन चुका है। भारत मे आईपीएल होता है उस समय भारतीयों के अंदर क्रिकेट को लेकर और भी ज्यादा जागरूकता बढ़ जाती है। क्रिकेट को लोग इतना ज्यादा पसंद और खेलने लगे हैं कि यह विश्व का दूसरा सबसे ज्यादा खेले जाने वाला खेल बन गया है।

आज के इस लेख में हम क्रिकेट ही नहीं अपितु इसके इतिहास, रोचक तथ्य और बल्लेबाजों के अविस्मरणीय रिकॉर्ड्स के बारे में जानेंगे। जिसे क्रिकेट जगत में सदैव याद रखा जाएगा। 

क्रिकेट का इतिहास (Facts, History of Cricket in Hindi)

क्रिकेट के इतिहास की बात करें तो इस खेल को सबसे पहले 17 वी सदी में दक्षिण पूर्व इंग्लैंड में खेला गया था। फादर ऑफ़ क्रिकेट पुरे विश्व मे W.G. Grace को जाना जाता है और अगर हम भारत की बात करे तो Ranjitsinhji Vibhaji II को भारत का फादर ऑफ़ क्रिकेट जाना जाता है।

इस खेल की तुलना गिल्ली डंडे से की गई है, जैसे डंडे से गिल्ली को मारा जाता है उसी तरह इसमें बैट से बॉल को मारा जाता है। ज़ब खेल की शुरुवात हुई थीं तो इसमें सिर्फ बल्ले और गेंद प्रयोग किया जाता था। ऐसा कहा जाता है की शुरू-शुरू मे इस खेल मे बॉल मे रस्सी लगाकर फेका जाता था।

आज क़े समय मे जिस बल्ले से क्रिकेट खेलते है वो पहले क़े समय मे काफी हद तक हॉकी की तरह दिखाई देता था, फिर उसमे बहुत से सुधार किये गए और जैसा आप आज बैट देखते है वैसे बैट बनाने लगे।

क्रिकेट एक ऐसा खेल है जिसका क़ानून सभी खेलो की अपेक्षा सबसे पहले आया था। 1744 मे सबसे पहला क़ानून बना था जिसमे खिलाड़ियों की पोशाक तथा कोई क़ानून नहीं बना था, तब बल्ले क़े आकार पर भी कोई पाबंदी नहीं थीं। क्रिकेट का ज़ब शुरुआत हुआ था तब बॉल को अंडरआर्म फेका जाता था पर ज़ब खेल मे सुधार किये गए तबसे खिलाड़ी बॉल को उप्परआराम फेकने लगे। यही से Spin और Swing जैसे जैसे बॉल फेकने की टेक्निक की शुरुवात हुई।

भारत मे क्रिकेट 18 वीं शताब्दी मे आ गया था। भारत मे सबसे पहला क्रिकेट क्लब कोलकाता मे 1792 मे बना था। ज़ब भारत मे शुरू शुरू मे क्रिकेट आया था तो सिर्फ अंग्रेज ही इसे खेल पाते थे और यह सोचते थे की भारतीय इसके काबिल नहीं है लेकिन अगर आज क़े समय मे देखा जाए तो स्थिति कुछ और है, भारतीय बल्लेबाज सभी देशो क़े बल्लेबाजों के बराबर ही खेलते है।

क्रिकेट से संबंधित रोचक तथ्य (Interesting facts about cricket)

तो आइए क्रिकेट से जुड़े रोचक तथ्य पर भी एक नजर डाल लेते हैं।

1. सबसे प्रथम बार इंगलैंड देश में क्रिकेट खेला गया था और उन्ही के द्वारा क्रिकेट पूरे विश्व में इंट्रोड्यूस हुआ था। इंग्लैंड का राष्ट्रीय खेल भी क्रिकेट ही है।

2. आपको जानकर खुशी होगी क्रिकेट की लोकप्रियता इतनी बढ़ गई है कि ये खेल 100 से भी अधिक देशों में खेला जाता है। क्रिकेट का खेल तीन प्रारूप में खेला जाता है। T20, One day, और Test Match. T20 में 20 ओवर का मैच होता है वनडे में 50 ओवर का मैच होता है और test match में अनलिमिटेड ओवर होता है और 5 दिनों तक चलता है। प्रत्येक दिन 90 ओवर कराए जाते हैं। उनमें से 20-20 क्रिकेट का नवीनतम स्वरूप है।

3. अब बात करते है  क्रिकेट के पिच कि तो पिच की लंबाई 22 गज और चौड़ाई 10 फुट होती है। क्रिकेट में जिस स्टंप का प्रयोग किया जाता है उसकी ऊंचाई 28 इंच, और जो बैट का प्रयोग किया जाता है उसकी हाइट 970 mm और चौड़ाई 109 mm होती है। International level पर जो बॉल का उपयोग किया जाता है उसका भार 165 से 170 ग्राम तक रहता है।

4. आपको जानकर हैरानी होगी मुख्य रूप से क्रिकेट का संचालन ICC द्वारा किया जाता है। ICC (International Cricket Council) जोकि UAE (Dubai) में स्थित है।

5. अब बात करते हैं पहले टेस्ट मैच की तो क्रिकेट का पहला टेस्ट मैच ऑस्ट्रेलिया बनाम इंग्लैंड के बीच 1877 ई० में MCG के ग्राउंड पर खेला गया था। जोकि ऑस्ट्रेलिया में ही स्थित है।

विश्व के सबसे बड़े स्टेडियम की सूची में Melbourne Cricket Ground (MCG) का नाम भी आता है। उसके बाद अन्य देशों में भी टेस्ट मैच का प्रचलन शुरू हुआ था। भारत में 1932 में टेस्ट मैच प्रारंभ हुआ था।

6. 1882 में ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड दोनों के बीच एक प्रतिद्वंदता ने जन्म लिया जिसका नाम (The Ashes) पड़ा था और ये series 5 test matches की आज भी हर साल होती है और साल में एक बार होती है।

7. आपको जानकर हैरानी होगी क्रिकेट का पहला एक दिवसीय मैच (ODI) भी इंगलैंड बनाम ऑस्ट्रेलिया के बीच 1971 ही खेला गया था। तब के टाइम में एक नाम जो बहुत ज्यादा मशहूर था (Charles Burn) जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय मैच में सबसे पहला रन लिया था और इन्होंने ही टेस्ट मैच में सबसे पहला शतक लगाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया था।

क्रिकेट के नियम टेस्ट (Test), वनडे (ODI) और टी20 (T20) (All Information and Cricket Rules in hindi)

क्रिकेट के रिकॉर्ड (Cricket records hindi)

ऐसे कई सारे रिकॉर्ड क्रिकेट जगत में मौजूद है जिसे तोड़ पाना असंभव सा है। तो आइए आपको उन सभी रिकॉर्ड से अवगत कराते हैं।

1. डॉन ब्रैडमैन का रिकॉर्ड

ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन जिनको (Don Of Cricket) के नाम से भी जाना जाता है। इनका अविश्वसनीय रिकॉर्ड ये है कि इनका test average 99.94 है। वे अपने कैरियर के अंतिम test match में अपना average 100 के पार ले जाना चाहते थे। परन्तु केवल 4 runs से चूक गए थे। इसलिए उनका average 99.94 ही रह गया और ये almost 100 का ही एवरेज है। इन्होंने अपने कैरियर में 52 test match खेले जिसमे इन्होंने 6996 रन बनाए। अपने कैरियर में इन्होंने 29 शतक और 13 अर्धशतक लगाए थे।

2. जैक होब्स का रिकॉर्ड

जैक हॉब्स इंग्लैंड के सबसे महान बल्लेबाज जिनको (the Master) के नाम से जाना जाता है। इनके नाम ऐसा रिकॉर्ड दर्ज है जिसका टूट पाना लगभग असंभव ही है। इन्होंने अपने कैरियर में 834 मैच खेले जिसमे 60 हज़ार से भी अधिक रन बना डाले। इसके अलावा उनका फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 199 शतक और 274 अर्धशतक जुड़ा है। इन्होंने अपनी टीम इंग्लैंड के लिए 61 टेस्ट मैच खेले और 5410 रन बनाए। टेस्ट कैरियर में 15 शतक और 28 अर्धशतक मौजूद है।

3. सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड

क्रिकेट क्रिकेट के हर प्रेमी ने सचिन तेंदुलकर का नाम अवश्य सुना होगा इन्होंने अपने कैरियर में सबसे ज्यादा इंटरनेशनल मैच खेलने का रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज किया है। इसके अलावा (Test ODI, T-20) तीनों फॉर्मेट की बात करी जाए तो सबसे अधिक रन भारत के महान खिलाड़ी जिनको (क्रिकेट के भगवान) कहा जाता है। इन्हीं के नाम पर है। सचिन ने अपने तीनों फॉर्मेट के कैरियर में 34357 रन बनाए है। इसके अलावा सबसे ज्यादा शतक का रिकॉर्ड भी सचिन के नाम है। जिसमे टेस्ट और वनडे दोनों को मिलाकर 101 शतक लगाने वाले खिलाड़ी है। सचिन ने टेस्ट में 51 शतक और वनडे में 49 शतक लगाए हैं।

4. मुथैया मुरलीधरन का रिकॉर्ड

श्रीलंका के दिग्गज खिलाड़ी और एक महान लेग स्पिनर मुथैया मुरलीधरन ने अपने कैरियर में 133 टेस्ट मैच में 800 विकट लेने का रिकॉर्ड अपने नाम किया है। जिसको किसी के लिए भी तोड़ पाना मुश्किल है।

5. ब्रायनलारा का रिकॉर्ड

वेस्टइंडीज के महान खिलाड़ी और दिग्गज बल्लेबाज ब्रायन लारा ने अपने नाम ऐसा रिकॉर्ड किया है जिसको तोड़ पाना लगभग नामुमकिन है। उन्होनें टेस्ट मैच की एक पारी में 400 रन अकेले बनाने का रिकॉर्ड बनाया है। जिसमे उन्होंने 582 गेंदों का सामना करते हुए 43 चौके और 4 छक्के जड़े थे और अपनी इतनी लंबी पारी में वे मैदान पर 778 min तक रहे थे।

6. अनिल कुंबले का रिकॉर्ड

भारत के पूर्व लेग स्पिनर और दिग्गज खिलाड़ी अनिल कुंबले जिन्होंने टेस्ट मैच की एक पारी में 10 विकट लेने का रिकॉर्ड अपने नाम किया है। हालांकि इस रिकॉर्ड की बराबरी भविष्य में कि है सकती है। परन्तु इसे तोड़ा नहीं जा सकता है। उन्होंने 1999 में पाकिस्तान के खिलाफ दिल्ली में फिरोजशाह कोटला मैदान पर महज 74 रन देकर 10 विकट झटक लिए थे। ये कारनामा इनसे पहले 1956 में इंग्लैंड के जिम लेकर ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ किया था। उन्होंने महज 53 रन देकर एक पारी में 10 विकट झटक लिए थे।

7. मोहम्मद समी का रिकॉर्ड

मोहम्मद समी पाकिस्तान के पूर्व बॉलर क्रिकेटर हैं। उन्होंने अपने नाम बड़ा ही अनोखा रिकॉर्ड दर्ज किया है। 2004 के एशिया कप में पाकिस्तान के इस बॉलर ने अपना ओवर पूरा करने के लिए कुल 17 गेंदे ले ली थी। इनका ओवर 17 गेंदों का हुआ था। समी ने अपने इस ओवर में 22 रन दिए थे। जिसमे से उन्होंने 7 वाइड और 4 नो बॉल फेंकी थी। यह रिकॉर्ड इंटरनेशनल क्रिकेट में आज तक नहीं टूट पाया है। क्युकी इतना लंबा ओवर अभी तक किसी बॉलर ने नहीं किया है।

8. क्रिस्टोफर गेल का रिकॉर्ड

वेस्टइंडीज के महान व दिग्गज बल्लेबाज क्रिस गेल जिनको दुनिया यूनिवर्स बॉस के नाम से जानती है। गेल ने टेस्ट मैच में अपनी पहली ही गेंद पर छक्का मारने का रिकॉर्ड अपने नाम किया है। ऐसा करनामा करने वाले गेल पहले बल्लेबाज है। इसके अलावा इन्होंने टी20 में सबसे तेज़ शतक का रिकॉर्ड भी अपने नाम किया है। उन्होंने महज 30 गेंद यानी कि 5 ओवर में शतक जड़ दिया था। गेल का ये शतक किसी भी फॉर्मेट में सबसे तेज़ शतक है। उन्होंने महज 66 गेंदों में 175 रन की मैच विनिंग पारी खेली थी। इन्होंने अपनी इस यादगार पारी में 13 चौके और 18 छक्के जड़े थे।

9. युवराज सिंह का रिकॉर्ड

भारत के पूर्व महान बल्लेबाज युवराज सिंह जिन्होंने अपने कैरियर में अनेकों पारियां खेल कर भारत को विजय दिलाई। उनके नाम 1 ओवर में 6 छक्के मारने का रिकॉर्ड है। उन्होंने इंगलैंड के खिलाफ स्टुअर्ट ब्रॉड को 1 ही ओवर में 6 गेंदों पर 6 छक्का मार के ये रिकॉर्ड अपने नाम किया था। इसके अलावा साउथ अफ्रीका के पूर्व खिलाड़ी हर्षल गिब्स ने भी अपने करियर में ये कारनामा करा था।

10. महेंद्र सिंह धोनी का रिकॉर्ड

भारत के पूर्व विकेटकीपर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अपने कैरियर में भारत को 2011 में वर्ल्डकप का खिताब जीता था। इसके अलावा एम.एस धोनी पहले विकेट कीपर कप्तान है जिन्होंने टेस्ट मैच में 200 रन की पारी खेली है।

महेंद्र सिंह धोनी के नाम दुनिया में सबसे तेज स्टपिंग करने का रिकार्ड दर्ज है जोकि केवल 0.08 सेकंड है। उन्होंने यह रिकार्ड वेस्टइंडीज कीमो पॉल की स्टपिंग करके बनाया है। अंतर्राष्ट्रीय कैरियर में सबसे अधिक 195 स्टपिंग करने का रिकार्ड धोनी के ही नाम है।

11. विराट कोहली का रिकॉर्ड

भारत के कप्तान और ऐसे खिलाड़ी जिनको पूरी दुनिया “The run Machine” के नाम से जानती है। सचिन के बाद अगर कोई है जो उनके रिकॉर्ड की बराबरी कर सकता है तो को यही है विराट कोहली ही है। जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी फॉर्मेट में 10,000 रन पूरे किए तब उनका average 50 से ज्यादा था।

12. एबी डिविलियर्स का रिकॉर्ड

अगर बात की जाए क्रिकेट की तो एबी डिविलियर्स को पूरी दुनिया (The Superman) के नाम से जानती है। एबी डिविलियर्स के रिकॉर्ड की बात की जाए तो इन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे तेज़ शतक और सबसे तेज़ 150 runs बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया है।

उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ महज 31 गेंदों पर 100 की पारी खेली थी। इसके अलावा महज 66 गेंदों पर 162 रन की पारी भी इन्हीं के नाम है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में एकमात्र ऐसे खिलाड़ी जो ग्राउंड के किसी भी कोने में बॉल को मारने का दम रखते हैं।

तो आज के इस लेख में हमने क्रिकेट के इतिहास (History of Cricket in Hindi) और उससे जुड़े रोचक तथ्यों के बारे में जाना और ये भी जाना की क्रिकेट में ऐसे कौन से रिकॉर्ड है। जिनका टूटना लगभग असम्भव ही है। हम उम्मीद करते हैं आपको हमारा ये लेख पसंद आया होगा यदि पसंद आया हो तो कृपया इस लेख को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।

Leave a Comment