Advertisements

Data Science क्या है? Data Scientist कैसे काम करता है? | What is Data Science in Hindi

Data Science क्या है? Data Scientist कैसे काम करता है? (What is Data Science meaning in Hindi, Data Science kya hota hai, What is Data Scientist in Hindi, How its works in hindi)

What is Data Science in Hindi: आज के समय टेक्नोलॉजी बहुत तेजी से आगे बढ़ रही है और लोग सोशल मीडिया का इस्तेमाल करना ज्यादा से ज्यादा पसंद कर रहे है। इन्टरनेट पर लोगो द्वारा हर प्र्रकार की गतिविधि, सर्च को ट्रैक किया जाता है एवं उसी डाटा का इस्तेमाल कंपनी अपने बिजनेस विकसित करने में कर रही है।

Advertisements

आज हम जितनी भी डिजिटल गतिविधियां करते हैं सब में कहीं ना कहीं डाटासाइंस का इस्तेमाल जरूर किया जाता है ताकि हमारी गतिविधियों को ट्रैक किया जा सके और हमें आवश्यकता के आधार पर सुविधाजनक सेवा प्राप्त हो सके।

डाटा साइंस की सहायता से उस डाटा का विश्लेषण किया जाता है एवं बेहतर मार्केटिंग की जाती है इसीलिए इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे Data Science क्या है?, यह कैसे काम करता है?, Data Scientist कौन होता है?, Data Science का उपयोग क्या है? इन सभी प्रश्नों का जवाब हम इस आर्टिकल में देने वाले है तो आइये शुरू करते है।

Data Science क्या है? (What is Data Science in hindi)

डाटा साइंस कंप्यूटर विज्ञान की शाखा है जिसे डेटा का विश्लेषण करने के लिए उपयोग किया जाता है। डाटा साइंस के जरिए डाटा को एकत्रित कर उसमें से महत्वपूर्ण सूचनाएं प्राप्त की जाती है जिसके लिए विभिन्न तरीकों का उपयोग किया जाता है। इसमें मुख्य रूप से साइंटिफिक मेथड और एल्गोरिथ्म सिस्टम्स का भी उपयोग किया जाता है ताकि बेहतर से बेहतर विश्लेषण प्राप्त हो सकें। सरल भाषा में अगर डाटा साइंस को समझा जाए तो कचरे के ढेर में से सोने निकालना जैसा है।

डाटा साइंस एक ऐसा अंतर्दृष्टि तकनीक है जिसमे संगठित और असंगठित डाटा को एकत्रित करके संगठित विश्लेषण करती है। इसका उपयोग मुख्य रूप से बिजनेस, स्वास्थ्य, सामाजिक विज्ञान तथा अन्य क्षेत्रों में किया जाता है। डाटा साइंटिस्ट में कुछ मुख्य तकनीक शामिल होते हैं जो डेटा विश्लेषण और डाटा माइनिंग से जुड़ा हुआ है। यह एक प्रकार से उन विज्ञानों का मेल है जो डाटा को प्रसारण करता है। 

डाटा साइंटिस्ट का उपयोग मुख्य रूप से बिजनेस में किया जाता है। उदाहरण के लिए व्यवसायिको को अपने ग्राहकों की अधिक जानकारी लेने में मदद करता है। डाटा साइंटिस्ट अपने ग्राहकों की पसंद और आवश्यकताओं को समझने में मदद करता है।

Data Science क्या है? Data-Scientist-kaise-kam-karta-hai

डाटा साइंस का उदाहरण 

डाटा साइंस का उदाहरण समझना कोई कठिन काम नहीं है। हमारे दैनिक दिनचर्या में डाटा साइंस का उपयोग करके हमें वे सुविधाएं उपलब्ध कराई जाती है जो हमारे लिए बेहतर और आसान होती है। इसमें कई सारे OTT Platform है जो डाटा साइंस का इस्तेमाल कर यूजर को सबसे अच्छा एक्सपीरियंस देने की कोशिश करती है।

जैसे आपने YouTube, Netflix, Amazon Prime Videos, Hotstar, Jio Cinema, Zee5 में जब भी वीडियो Watch करते हैं तो आपने अक्सर देखा होगा Recommend एक वीडियो में उसी प्रकार के वीडियो को दर्शाया जाता है। इसके अलावा आप अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर उसी प्रकार के विज्ञापन देख सकते हैं जिस प्रकार के Query आपने सर्च किया था यह पूरा कमाल Data Science का होता है।

यदि अन्य उदाहरण की बात करें तो अपने मोबाइल कीबोर्ड में Auto Correction या Auto Suggest का विकल्प देखा हुआ है जिसमें यूज़र द्वारा गलत टाइप करने का पर भी सही शब्द suggest किया जाता है। यह भी डाटा साइंस का कमाल है इसमें डाटा को विश्लेषण करके predict दिया जाता है। 

Data Scientist कैसे काम करता है? (What is Data Scientist in Hindi)

इसके बाद सवाल आता है की आखिर डाटा साइंस काम कैसे करता है? इसे समझने के लिए हमें उदाहरण लेना होगा। जिस प्रकार से कोयले की खान से हीरा निकाला जाता है ठीक उसी प्रकार से कुछ डाटा साइंस का उपयोग करके information निकाला जाता है। यहां आप सोच रहे होंगे की डाटा साइंस के द्वारा जानकारी प्राप्त करना कितना मुश्किल है तो उत्तर है नहीं, क्योंकि वर्तमान समय में बहुत सारे ऐसे मशीन आ चुकी है जो डाटा को ऑटोमेटिक एनालाइज करती है और सही आउटपुट प्रदान करती है। इसी क्रम में भविष्य में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस डेवलप किया जा रहा है जो डाटा साइंस के उपयोग से बड़े डाटा को विश्लेषण करके सही जानकारी दे सकें।

डेटा साइंस में बड़े लेटर को एनालाइज करके उसमें से information निकाला जाता है इसके लिए विभिन्न तरीको का इस्तेमाल किया जाता है जैसे Algorithm, Scientific Method। इस प्रक्रिया को पूर्ण करने के लिए डाटा साइंटिस्ट जो काफी कौशल होते हैं उन्हें डाटा इंजीनियरिंग, मैथमेटिक्स प्रोग्रामिंग जैसे विषयों का अधिक ज्ञान होता है और वे डाटा को विश्लेषण करके उनमें से सही जानकारी निकालते हैं।

केवल मशीनों की मदद से सही जानकारी प्राप्त नहीं किया जा सकता है इसीलिए डाटा साइंटिस्ट उस समस्या के आसपास संबंधित डाटा को इकट्ठा करता हैं। उसके बाद आगे की प्रक्रिया को पूर्ण करने के पश्चात ही गहरी विश्लेषण करता हैं। अंत में Analyze Result Announce करता हैं। डाटा को Prediction करने का काम करती है इसके लिए Machine Learning और Deep Learning को भी इस्तेमाल में लिया जाता है।

Future of Data Science

भविष्य में डाटा साइंस को लेकर काफी चर्चाएं होने वाली है। डाटा का विश्लेषण करने के लिए कई मॉडलों और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को डिवेलप किया जा रहा है। इसमें बड़े डाटा को विश्लेषण करके उसमें से जानकारी ज्ञात करने की प्रक्रिया को और भी आसान करने की कोशिश की जा रही है।

Experts का यहां तक मानना है कि अब आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस बड़े डाटा को मशीन स्वयं ही Analyze करके उस पर प्रतिक्रिया भी देगी इससे बिजनेस में अधिक लाभ होगा। भविष्य में डाटा वैज्ञानिकों को क्वांटम लीप बनाने का अवसर भी मिलेगा। 

Forbes के अनुसार डाटा साइंटिस्ट दुनियां का सबसे सुरक्षित नौकरियों में से एक बन गया है इसमें भारी मात्रा में साइबर सुरक्षा जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। जैसे जैसे दुनियां डिजिटल की ओर आगे बढ़ रही है। उसी प्रकार से हम देख सकते हैं कि हैकर्स की संख्या भी अधिक बढ़ रही है और डाटा चोरी होने का खतरा भी बढ़ रहा है। इसी समस्या को मद्देनजर रखते हुए डाटा साइंटिस्ट भविष्य में सबसे अच्छी और सुरक्षित जॉब होगी।

बड़े पैमाने पर डाटा को संचालित करने के लिए डाटा साइंटिस्ट को रखा जाएगा। इसके अलावा यह कहना सही नहीं होगा कि डाटा साइंटिस्ट को पूरी तरह से मशीनों में बदल दिया जाएगा, बल्कि Automationऔर Artificial Intelligence की सहायता से काम को और आसान करने की कोशिश की जाएगी।

Data Science vs Machine Learning

आइए अब हम बात करते हैं डाटा साइंस और Machine Learning में क्या अंतर है? यह किस प्रकार से काम करता हैं।

  • कंपनी को प्रतिस्पर्धात्मक लाभ देने के लिए डाटा साइंस के जरिए इनसाइट्स प्राप्त किया जाता है जो कई स्रोतों से डाटा को संग्रहित करके विश्लेषण करने में मदद करता है वही Machine Learning Algorithm और उपकरणों को design के साथ-साथ विकसित करने के लिए उपयोग में लिया जाता है। इसके अलावा अंतर्दृष्टि या रुझान को खोजने के लिए किसी भी एक डाटा साइंस  का इस्तेमाल किया जाता है।
  • डाटा साइंस टॉप स्पेशलाइजेशन कंप्यूटर, विज्ञान, गणित और सांख्यिकी है वही Machine Learning में इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग कंप्यूटर साइंस, मैकेनिकल इंजीनियरिंग जैसे टॉप स्पेशलाइजेशन है।
  • डाटा साइंस में कुछ टॉप सर्टिफिकेट्स जैसे Data Science Version 2.2, Certified Analytics Professional (CAB) होता है वही Machine Learning में Python Course Udemy, Machine Learning Online Courses आदि शामिल है।
  • डाटा साइंस में टॉप जॉब प्रोफाइल्स, डाटा एनालिटिक्स, एप्लीकेशन आर्किटेक्ट डाटा साइंटिस्ट इत्यादि मिल सकती है। वहीं अगर आप Machine Learning में टॉप जॉब प्रोफाइल्स देखे तो प्रोडक्ट इंजीनियर मैकेनिकल इंजीनियर सॉफ्टवेयर, इंजीनियर Machine Learning इंजीनियर शामिल होते है।
  • डाटा साइंस में टॉप जॉब प्रोफाइल्स, डाटा एनालिटिक्स, एप्लीकेशन आर्किटेक्ट डाटा साइंटिस्ट इत्यादि मिल सकती है। वहीं अगर आप Machine Learning में टॉप जॉब प्रोफाइल्स देखे तो प्रोडक्ट इंजीनियर मैकेनिकल इंजीनियर सॉफ्टवेयर, इंजीनियर Machine Learning इंजीनियर शामिल होते है।

Data Scientist कौन होता है?

डाटा का विश्लेषण करने वाला High Skilled Person डाटा साइंटिस्ट होता है जो Data Engineering, Social Science, Technology, Deep Learning Statics, Artificial Intelligence, Machine Learning इत्यादि जैसे विषयों का ज्ञान रखते हैं। डाटा साइंटिस्ट डाटा को लेकर काफी सक्रिय होते हैं और समस्याओं का समाधान करने के लिए तत्पर रहते हैं। 

Data Scientist डाटा को mine करके analyze करने पर जोर देता हैं इसके साथ ही बड़े डेटा को संग्रहित करके विश्लेषण करने के पश्चात निष्कर्ष निकालते हैं। इस प्रकार के डाटा साइंटिस्ट को एक्सपर्ट कहते हैं।

Data Science का उपयोग?

वर्तमान समय में डाटा साइंस का उपयोग बड़े बिजनेस और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स के द्वारा किया जा रहा है। इसमें डाटा का उपयोग करते हुए डाटा को संग्रहित किया जाता है और विश्लेषण करने के पश्चात Prediction के बाद फाइनल Output दिया जाता है। हमने नीचे प्रमुख डाटा साइंस का उपयोग करने वाले क्षेत्र के बारे में वर्णन किया है।

  • Google Assistant, Alexa और Siri जैसे प्रमुख Speech Recognition System में डाटा साइंस का उपयोग किया गया है। यह सिस्टम्स यूजर के डाटा को Visualize करके रिजल्ट प्रदान करते हैं।
  • Self Driving Car में डाटा साइंस के जरिया Traffic Light, Road Direction आदि में चल रहे हैं बाकी वाहनों को Recognize करने के लिए उपयोग किया जाता है।
  • Google डाटा साइंस का उपयोग अपने सर्च इंजन को improve करने के लिए करता है। गूगल द्वारा collect किए गए यूजर के डाटा के माध्यम से और अधिक बढ़िया रिजल्ट देने की कोशिश करता है इसके अलावा गूगल में अपने Gmail में अपने Spam Folder का ऑप्शन देखा होगा वह भी डाटा साइंस के मदद से किया जाता है।
  • कुछ प्रमुख ट्रांसपोर्ट कंपनियां जैसे OLA & Uber भी Weather, Traffic और Price आदि को Set करने के लिए Data Science का इस्तेमाल करती है।

निष्कर्ष

उम्मीद करता हूँ आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी Data Science क्या है?, यह कैसे काम करता है?, Data Scientist कौन होता है?, Data Science का उपयोग क्या है तथा इससे सम्बंधित सभी जानकारी साझा किया जो आपके लिए फायदेमंद रहे। दोस्तों Data Science आने वाले समय में सबसे अधिक उपयोग किया जाने वाला कंप्यूटर विज्ञान की शाखा भी बन सकता है। दुनियां में डाटा विश्लेषण के जरिये कंपनियां मार्केटिंग कर रही है। संक्षेप में अगर बात करें, तो भविष्य में Data Science अपने चरम सीमा पर होगा। इसके अलावा यदि आपके मन इस पोस्ट से सम्बंधित कोई सवाल हो तो नीचे कमेन्ट कर सकते है और पोस्ट पसंद आने पर इसे अपने सोशल मीडिया में शेयर भी जरुर करें।

Homepage Follow us on Google News

इन्हें भी जाने

Leave a Comment