Advertisements

पत्रकार विनोद दुआ का जीवन परिचय, निधन | Vinod Dua biography hindi

दोस्तों भारतीय टेलीविजन के ऐसे महान अनुभवी पत्रकार पद्मा श्री विनोद दुआ जी के व्यक्तित्व को जरूर जानना चाहिए। आज Vinod dua biography hindi आर्टिकल के जरिए हम आपको विनोद दुआ जी के जीवन और व्यक्तित्व से आपको भली भांति परिचित कराएंगे।

विनोद दुआ टेलीविजन के जाने-माने चेहरों में से एक थे वह पेशे से पत्रकार थे। टेलीविजन के कई अलग-अलग चैनलों पर एंकरिंग के साथ-साथ विनोद दुआ एक अनुभवी पत्रकार, चुनाव विश्लेषक, राजनीतिक टिप्पणीकार थे और इसके साथ ही साथ उन्होंने टेलीविजन पर निर्माता और निर्देशक की भूमिका भी निभाई।

उन्होंने टेलीविजन पर अपनी करियर की शुरूआत ब्लैक एंड वाइट पर्दे पर दूरदर्शन चैनल पर एंकरिंग के साथ की और ब्लैक एंड वाइट पर्दे से लेकर टेलीविजन के रंगीन पर्दे तक एक एंकर के रूप में अपना अभिनय तय किया।

Advertisements

लेकिन दोस्तों बड़े दुख की बात है लंबी बीमारी के कारण 04 दिसंबर 2021 को भारतीय टेलीविजन के प्रख्यात पत्रकार पद्म श्री विनोद दुआ का निधन हो गया। 05 दिसंबर के दिन उनके अंतिम संस्कार का कार्यक्रम निर्धारित किया गया है।

भारतीय टेलीविजन के ऐसे अनुभवी पत्रकार की मृत्यु भारतीय टेलीविजन जगत के लिए अपूरणीय क्षति है।

सन 2008 में भारतीय टेलीविजन में श्रेष्ठ पत्रकारिता के लिए भारत सरकार द्वारा विनोद दुआ जी को पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

विनोद दुआ जी इस वर्ष के प्रारंभ में कोविड-19 से संक्रमित पाए गए जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। धीरे-धीरे उनकी हालत बिगड़ने लगी जिसके कारण उन्हें आईसीयू में शिफ्ट कर दिया गया और डॉक्टरों ने बताया कि उनकी हालत काफी गंभीर है। 4 दिसंबर 2021 को लंबी बीमारी के चलते विनोद दुआ ने अपना दम तोड़ दिया।

Journalist-Vinod-Dua-biography-hindi

विनोद दुआ का जीवन परिचय (Journalist Vinod Dua biography hindi)

विनोद दुआ जी का जन्म व शुरुआती जीवन

दोस्तों भारतीय टेलीविजन के हिंदी पत्रकार और कार्यक्रम निर्देशक विनोद दुआ जी का जन्म 11 मार्च 1954 को हुआ था।

अपने जीवन के शुरुआती दौर में जब 1947 में भारत का विभाजन नहीं हुआ था तब भारत-पाकिस्तान विभाजन से पहले उनका पूरा परिवार पाकिस्तान वाले हिस्से के वजीरिस्तान के पास स्थित एक शहर डेरा इस्माइल खान में रहा करता था। लेकिन जब 1947 में विभाजन के समय उनका पूरा परिवार मथुरा मे रहने लगा। शुरू में तो उन्हें धर्मशाला में ही आसरा लेना पड़ा।

विनोद दुआ की शिक्षा (Vinod Dua Education hindi)

विनोद दुआ जी को हिंदी साहित्य का काफी ज्ञान था उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से संबंध हंसराज डिग्री कॉलेज, दिल्ली से अंग्रेजी साहित्य (English Literature) में अपनी ग्रेजुऐशन की डिग्री प्राप्त की जिसके बाद उन्होंने अंग्रेजी साहित्य में ही परास्नातक की डिग्री दिल्ली यूनिवर्सिटी से प्राप्त की।

अपने कॉलेज के समय में ही विनोद दुआ जी वाद-विवाद में काफी रुचि रखते थे और वह इसी दौरान बहुत से वाद विवाद कार्यक्रमों में हिस्सा लेने लगे। वह अपनी बात को सही ढंग से अभिव्यक्त करने में माहिर थे। उनके अभिव्यत्तिफ़ का यह गुण दिन पर दिन निखरता ही गया। इसी गुण के चलते उन्होंने टेलीविजन के पर्दे पर अपना हुनर आजमाया।

आपको बता दें कि विनोद दुआ जी वर्तमान समय में एनडीटीवी चैनल के समाचार वक्ता और प्रमुख प्रस्तुतकर्ता थे।

विनोद दुआ का वैवाहिक जीवन

विनोद दुआ जी का विवाह पद्मावती दुआ के साथ हुआ था जो चिन्ना दुआ के नाम से काफी मशहूर भी हैं।

विनोद दुआ जी के दो बच्चे हैं जिनमें से एक बेटे का नाम वकुल दुआ और दूसरी बेटी का नाम मल्लिका दुआ है।
उनकी बेटी मल्लिका दुआ टेलीविजन पर एक अभिनेत्री के तौर पर जानी जाती हैं और एक हास्य कलाकार भी हैं।

आपको बता दें कि विनोद दुआ जी की पत्नी पद्मावती दुआ की मृत्यु 11 /6/ 2021 को कोरोना बीमारी से लंबी लड़ाई के चलते हुई थी जिसके बाद 4 दिसंबर को उनके पति विनोद दुआ जी की मृत्यु भी कोरोना के चलते हुई बीमारी से लंबी लड़ाई के दौरान हुई।

भारतीय टेलीविजन की पत्रकारिता में विनोद दुआ का सफर

1. विनोद दुआ ने टेलीविजन में अपने करियर की शुरुआत नवंबर 1974 में की। उनका यह पहला कार्यक्रम दूरदर्शन पर प्रसारित किया गया।

2. सन 1975 में विनोद दुआ ने भारतीय युवाओं से जुड़ने के लिए शुरू किए गए कार्यक्रम जवान तरंग में एंकरिंग की। इस कार्यक्रम को अमृतसर टीवी पर प्रसारित किया गया था।

3. सन 1981 की बात है जब विनोद दुआ ने रविवार को प्रकाशित होने वाली एक पत्रिका के लिए एंकरिंग की शुरुआत की जिसका नाम ‘आपके लिए ‘ था। सन 1981 से लेकर 1984 तक उन्होंने इस पत्रिका के लिए काम किया।

4. सन 1984 मे विनोद दुआ जी के दमदार करियर की शुरुआत दूरदर्शन टेलीविजन चैनल के साथ हुई जिस पर सह एंकर के तौर पर काम किया और चुनाव विश्लेषण से जुड़े कार्यक्रमों की एंकरिंग की।

5. दूरदर्शन चैनल पर दमदार एंकरिंग के बाद उनकी करियर के लिए नए रास्ते खुल गए जिसके बाद उन्हें एक-एक करके चुनाव विश्लेषक कार्यक्रमों की एंकरिंग के लिए अलग-अलग चैनलों की ओर से मौके आने लगे।

6. 1985 में विनोद दुआ जी ने एक सौ की एंकरिंग की जिसमें जनता सीधे मुख्यमंत्री से सवाल पूछ सकती थी इस शो का नाम ‘जनवाणी’ था।

7. सन 1987 की बात है जब विनोद दुआ जी इंडिया टुडे ग्रुप के साथ सह निर्माता के रूप में शामिल हुए। जिसके तुरंत 1 साल बाद उन्होंने अपनी प्रोडक्शन कंपनी द कम्युनिकेशन ग्रुप की नींव रखी। इतना ही नहीं सन 1992 में इन्होंने ज़ी टीवी पर आने वाले कार्यक्रम जिसका नाम चक्रव्यूह था उसकी एंकरिंग की।

8. 1997 से लेकर 1998 तक इन्होंने तस्वीर ए हिंद प्रोग्राम की एंकरिंग की जिसे दूरदर्शन के ही डीडी 3 मीडिया द्वारा प्रसारित किया गया।

9. 1998 में विनोद दुआ जी ने सोनी टीवी चैनल पर आने वाले चुनाव विश्लेषण प्रोग्राम की एंकरिंग की जिसका नाम ‘चुनाव चुनौती’ था।

10. सन 2000 से लेकर लगभग सन 2003 तक विनोद दुआ जी सहारा टीवी से जुड़े रहे जिसके बाद इन्होंने एनडीटीवी पर आने वाले कार्यक्रम ‘ जायका इंडिया का ‘ की मेजबानी की।

विनोद दुआ जी की उपलब्धियां (Awards and Achievements of Vinod Dua)

1. 1996 ईस्वी में विनोद दुआ जी को रामनाथ गोयनका एक्सीलेंस पत्रकारिता में अवार्ड से सम्मानित किया गया आपको बता दें कि विनोद दुआ जी पहले ऐसे इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकार थे जिन्हें यह पुरस्कार दिया गया।

2. साल 2008 में इन्हें भारत सरकार द्वारा पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया जो कि भारत का चौथा सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार है।

3. सन 2016 में इन्हें आईटीएम यूनिवर्सिटी ग्वालियर द्वारा डी. लीट. (डॉक्टर ऑफ लेटर्स) का सम्मान दिया गया।

4. सन 2017 में मुंबई प्रेस क्लब द्वारा विनोद दुआ जी को रेड इंक अवार्ड (Lifetime Achievement Awards) से सम्मानित किया गया। यह पुरुस्कार देवेंद्र फडणवीस द्वारा उन्हें यह अवार्ड टेलीविजन पत्रकारिता के क्षेत्र में उनके विशेष योगदान के लिए दिया गया।

विनोद दुआ की मृत्यु कब हुई? (Vinod Dua Death)

कोरोना के संक्रमण के कारण विनोद दुआ जी अप्रैल महीने से अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था। जिसके बाद दिन प्रतिदिन उनकी हालत में सुधार आने के बजाय उनकी हालत और बिगड़ती गई उनकी बिगड़ती हालत को देखकर उन्हें आईसीयू में शिफ्ट कर दिया गया जिसके बाद 4 दिसंबर को संध्या के समय उनका निधन हो गया। इस समय उनकी उम्र 67 वर्ष की थी।

उनके मौत की खबर उनकी बेटी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट के जरिए लोगों तक पहुंचाई। टेलीविजन जगत में पत्रकारिता के क्षेत्र में उनके योगदान को सदैव याद रखा जाएगा।

FAQ

प्रश्न- विनोद दुआ कौन थे?

उत्तर- विनोद दुआ जी एक कर्मठ व अनुभवी पत्रकार, विश्लेषक व एंकर थे। टेलीविजन में अपने करियर की शुरुआत नवंबर 1974 में दूरदर्शन से की।

प्रश्न- विनोद दुआ की पत्नी का नाम क्या है?

उत्तर- उनकी पत्नी का नाम पद्मावती दुआ है ।

प्रश्न- विनोद दुआ किस धर्म से हैं?

उत्तर- विनोद दुआ हिन्दू धर्म से थे।

इन्हें भी पढ़े :  
1. गुरु रामदास जी का जीवन परिचय
2. महान साहित्यकार रविन्द्रनाथ टैगोर का जीवन परिचय (Rabindranath Tagore Biography)
3. भारत के महान स्वतंत्रता सेनानी (Freedom Fighters of India)
4. नंबी नारायणन का जीवन परिचय (ISRO Scientist Nambi Narayanan ) 
4. कारगिल के शेरशाह कैप्टन विक्रम बत्रा का जीवन परिचय
5. साउथ के स्टार पुनीत राजकुमार का जीवन परिचय (Biography of Puneet Rajkumar)

Leave a Comment