OTP क्या होता है? | OTP Full form in Hindi

आज के इस लेख में हम ओटीपी OTP क्या होता है? इसके बारे में जानेंगे। OTP का नाम आपने काफी बार सुना होगा। OTP एक तरीके का पासवर्ड होता है जिसको हम केवल एक बार ही इस्तेमाल कर सकते हैं। OTP एक तरीके से confirmation pin होता है। जो कि आपकी identity को confirm करता है।

आज के डिजिटल युग में हम अपने रोज़मर्रा के काम ऑनलाइन ही करते हैं चाहे मोबाइल रिचार्ज करना हो या shopping करना या किसी को पैसे भेजना इन सब में हमे (OTP) One Time Password की जरूरत अवश्य पड़ती है। 

तो आज हम आपको बताएंगे की OTP क्या होता है? और इसके फायदे क्या क्या है। हमारा ये लेख आप अंतिम तक पढ़िए उसके बाद आपको OTP से संबंधित सभी जानकारी मिलेगी।

ओटीपी (One Time Password) OTP क्या होता है?

जब हम online shopping करते हैं और उसकी payment करते हैं या कोई online transaction करते हैं तो तो हमारे मोबाइल पर OTP नाम का message आता है। ये message एक password का काम करता है। जिसे हम उस particular जगह डालते है उसके बाद ही online payment successful होता है। बिना OTP डाले आपका payment successful नहीं होगा। OTP का इस्तेमाल ऑनलाइन क्षेत्र में अलग अलग तरीके से किया जाता है।

आज के डिजिटल युग में जहां हम सारे काम ऑनलाइन ही करते हैं। फिर चाहे online shopping हो या फिर किसी को पैसे भेजने या मंगवाने हो, टिकट बुक करना हो या खाना order करना हो हर चीजो की payment  ऑनलाइन ही करते हैं। ऐसे में हमारी personal detail की security होना बहुत ज्यादा जरूरी है। फिर चाहे वो ATM या bank से जुड़ी जानकारी हो या फिर हमारे google account से जुड़ी जानकारी हो सिक्योरिटी होना बहुत जरूरी है। ऐसे में OTP हमारे लिए extra security का काम करता है।

OTP का प्रयोग क्यों किया जाता है?

OTP 4 से 6 अंको का password होता है जो आपके registered mobile number पर sms या call माध्यम से आता है। जिसे आप केवल एक बार ही इस्तेमाल कर सकते हैं। ये OTP तब आता है जब आप ऑनलाइन पैसे transfer करते है या कोई और ऑनलाइन payment करते है तो उस पेमेंट को confirm करने के लिए एक OTP आता है और transaction को Complete करने के लिए हमें OTP डालना पड़ता है। OTP डालने के बाद हमारा online transaction complete हो जाता है।

ये सिर्फ बैंक पेमेंट तक ही नहीं बल्कि google account, paytm, flipkart जैसी बड़ी वेबसाइट पर log in करने के लिए भी OTP की जरूरत पड़ती है।

OTP full form in hindi:-

अब हम आपको बताएंगे कि OTP का full form क्या होता है। OTP का full form One Time Password होता है।

O- One

T- Time

P- Password

One Time Password आम password की तरह नहीं होता है। One time password जैसा कि नाम से ही पता चल रहा है ऐसा password जोकि एक बार ही मान्य रहता है। यानी कि हम इसे एक बार ही इस्तेमाल कर सकते हैं। हर बार अलग पासवर्ड OTP के रूप में आता हैं और केवल संख्या में ही आता है।

ओटीपी (OTP) का इस्तेमाल कहां-कहां होता है?

OTP (One Time Password) का सबसे अधिक इस्तेमाल Net banking में, Online Transaction करने के लिए किया जाता है इसके अलावा google ने भी अपने users को extra security देने के लिए OTP का use करना शुरू कर दिया है। OTP का इस्तेमाल E-Commerce वेबसाइट में भी होता है जैसे – Amazon, Snapdeal, Flipkart, इत्यादि।

Digial Wallet की सेवा प्रदान करने वाले ऑनलाइन private company जैसे paytm, freecharge, mobikwik इत्यादि ये सभी अपने customer की security के लिए OTP का use कर रहे हैं।

Read alsoATM का उपयोग कैसे किया जाता है?

Read also: UPI क्या है? UPI ID और PIN कैसे बनाए?

ओटीपी (OTP) के फायदे/लाभ (Advantages of OTP):

OTP (One Time Password) के अनेकों फायदे हैं आइए जानते हैं:-

1. Security को बढ़ाने के लिए:-

यह तरीके का security code होता है जो कंपनी अपने customer को provide करतीं हैं। जिसमें customer को extra security प्राप्त हो। OTP ऐसा पासवर्ड है जो user के account को चोरी होने के बाद भी सुरक्षित रखता है क्युकी बिना OTP डाले कोई भी व्यक्ति दूसरे के account को access नहीं कर सकता है।

2. सही user की पहचान:-

OTP के मदद से ही सही user की पहचान होती है। ऐसा इसलिए होता है क्युकी OTP केवल आपके registered mobile number पर ही आता है। जैसे सही user ही अपने अकाउंट में action कर रहा है जैसे पासवर्ड बदलना या मोबाइल number update करना आदि। तो इसका पता user के Registered mobile number पर message के रूप में OTP भेज के पता लगाया जा सकता है की सही user ही action कर रहा है।

3. Spamming से सुरक्षित रहता है:-

जब हम पैसे का लेन देन ऑनलाइन  करते है तो बैंक खाताधारक से अनुमति लेने के लिए एक One time password भेजता है ताकि असली खाताधारक की पहचान हो सके। इससे हम ठगी के शिकार होने से बचते हैं और ये OTP के सबसे बड़े फायदे में से एक है। Financial year में ही इसका use सबसे जड़ा किया जाता है।

4. OTP मुफ्त होता है:-

OTP एकदम free होता है। इसके लिए customer को एक भी रुपए देने की आवश्यकता नहीं होती है। आपके अकाउंट को secure रखने के लिए company आपसे एक भी रुपए charge नहीं लेती है।

5. OTP तेज़ी से काम करता है:-

Original Cutomer की पहचान OTP की मदद से कुछ ही second में हो जाती है। Customer के मोबाइल पर एक OTP आता है जैसे ही को OTP डालते हैं वो पहचान जाता है की customer वही है।

OTP किसी के साथ share करना risky है या नहीं?

OTP किसी के साथ share करना रिस्क है या नहीं तो इसका उत्तर है हा risky है आप अपना otp किसी के साथ भी मत शेयर करे। आपने कहीं पढ़ा होगा। “Don’t share this OTP to anyone” इसका यही मतलब है कि अपना OTP किसी के साथ भी शेयर ना करे।

OTP आम तौर पर two factor authentification होता है जो online transaction के जरिए आपके बैंक से पैसे चुराने के प्रयास को रोकने में काम आता है। अगर किसी को आपके अकाउंट से पैसे निकालने है और उसको आपके अकाउंट की जानकारी किसी माध्यम से मिल भी जाए तो भी उसे अंत में OTP की आवश्यकता पड़ेगी।

इसके लिए vo व्यक्ति आपको आपसे email या कॉल कर के झूट बोलकर OTP जानने का प्रयास कर सकता है। इसलिए आपको सतर्क रहना होगा और इस बात का ख्याल रखना होगा कि आप अपना OTP कभी भी किसी को भी ना बताए।

Conclusion:

आज हमने OTP के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त की है कि ओटीपी OTP क्या होता है? OTP के फायदे क्या क्या है? और हमें अपना OTP किसी को बताना चाहिए या नहीं तो इसका सीधा सा जवाब है कि नहीं बताना चाहिए। हम आशा करते हैं आपको हमारा ये लेख पसंद आया होगा और OTP से जुड़ी हर जरूरी जानकारी आपको मिल गई होगी। अगर हमारा ये लेख आपको अच्छा लगा हो तो इसको share अवश्य करे।

Leave a Comment