Advertisements

UPI 2.0 क्या है? यह कैसे काम करता है? UPI के नए फीचर्स और फायदे –

UPI 2.0 क्या है? UPI 2.0 के नए फीचर्स और फायदे, कैसे काम करता है UPI 2.0 (What is UPI 2.0, New Features of UPI, benefits of UPI 2.0 payment features)

2016 में UPI की शुरुआत के बाद भारत में ऑनलाइन लेन देन में बहुत तेजी से बढ़ोतरी हुई है। इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि आज दुनिया में सबसे ज्यादा डिजिटल ऑनलाइन पेमेंट के मामले में भारत सबसे ऊपर यानि कि टॉप पर है जबकि चीन इस मामले में दूसरे नंबर पर है।

UPI की सफलता के बाद भारत सरकार ने भुगतान संबंधी लेन-देन की सुविधा को और बढ़ाने के लिए UPI का नया वर्जन लांच किया है जिसे UPI 2.0 के नाम से जाना जाता है। UPI के इस वर्जन में बहुत सी नई तकनीकों का इस्तेमाल किया गया है जिसके जरिए पैसों की लेनदेन में काफी सुविधा हो जाएगी।

Advertisements

इस वर्जन में सबसे मजेदार बात यह है कि अब कीपैड फोन का इस्तेमाल करने वाले लोग भी UPI से लेने देन का फायदा उठा सकते हैं। UPI 2.0 में कई ऐसे नए फीचर्स आ गए हैं जिनके जरिए UPI पेमेंट करने के लिए ना ही स्मार्टफोन की जरूरत है और ना ही इंटरनेट की। जिनके पास स्मार्टफोन नहीं है बल्कि फीचर यानी कि कीपैड फोन है वह भी यूपीआई से लेन-देन की सुविधा का लाभ उठा सकते हैं।

इतना ही नहीं यूपीआई 2.0 में कई सारे और भी फीचर्स जोड़े गए हैं जिनके जरिए यूपीआई लेन-देन में ग्राहकों को काफी फायदे होने वाले हैं। तो चलिए आज इस आर्टिकल के जरिए आपको बताते हैं कि आखिर UPI 2.0 क्या है और इसके कौन कौन से फायदे हैं?

what-is-upi-2.0-kya-hai

UPI 2.0 क्या है?

UPI 2.0 UPI का नया और दूसरा संस्करण (Vesrion) है जिसे भारत सरकार ने साल 2018 में लांच किया था। हालांकि समय भारत सरकार ने इस वर्जन के साथ कई सारे नए फीचर्स को अपडेट किया है इसीलिए UPI 2.0 इन दिनों काफी चर्चा में है।

UPI का फुल फॉर्म Unified Payments Interface होताहै जिस का हिंदी अर्थ एकीकृत भुगतान अंतरापृष्ठ होता है। यह एक ऐसी सुविधा है जिसके इस्तेमाल के जरिए हम कहीं से भी कभी भी अपने बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में पैसों का लेन देन कर सकते हैं। यानि कि पैसे भेज भी सकते हैं और मंगा भी सकते हैं। भारत में इसकी की शुरुआत साल 2016 में हुई थी।

शुरू में ऐसा माना जा रहा था कि भारत के ज्यादा लोग UPI का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे और ना ही इसमें रुचि लेंगे लेकिन आज परिस्थिति कुछ और ही है। भारत में यूपीआई की शुरुआत के बाद दिन प्रतिदिन यूपीआई पेमेंट्स का प्रचलन बढ़ता चला गया और आज भारत दुनिया में यूपीआई पेमेंट के मामले में सबसे ऊपर यानी कि टॉप पर है।

हालांकि कई बार UPI पेमेंट को लेकर फ्रॉड और कुछ असुविधाओं की बातें भी सामने आई। इन बातों को अमल में लेते हुए भारत सरकार ने साल 2018 में ऑनलाइन भुगतान को सुरक्षित और सुविधाजनक बनाने के लिए इसके दूसरे वर्जन UPI 2.0 को लांच किया जिसमें यूपीआई पेमेंट को लेकर कई सारे बदलाव किए गए और नई सुविधाएं भी उपलब्ध कराई गई।

हाल ही में भारत सरकार ने UPI 2.0 में बहुत से नए और बेहतरीन फीचर्स अपडेट किए हैं जिनके जरिए अब केवल ज्याद पढ़े-लिखे और स्मार्टफोन का इस्तेमाल करने वाले लोग ही नहीं बल्कि कीपैड मोबाइल फोन का इस्तेमाल करने वाले लोग भी इसका लाभ उठा सकेंगे। इन सबके अलावा इस वर्जन में सबसे मजेदार फीचर यह है कि अब यूपीआई पेमेंट करने के लिए इंटरनेट की भी आवश्यकता नहीं पड़ेगी।

तो चलिए अब आपको यूपीआई 2.0 के इन नए फीचर्स के फायदे के बारे में बताते हैं।

UPI 2.0 के नए फीचर्स और फायदे –

यूपीआई 2.0 वर्जन के तहत कई सारे नए और बेहतरीन फीचर्स आ गए हैं। इन नए फीचर्स में UPI 123Pay और UPI Autopay सबसे प्रमुख हैं।

1. UPI 123Pay: बिना इंटरनेट और स्मार्टफोन के कर सकेंगे यूपीआई पेमेंट –

यूपीआई 2.0 के तहत ही UPI के एक और नए वर्जन UPI 123Pay को हाल ही में लॉन्च किया गया। इस नए वर्जन में कुछ ऐसे फीचर शामिल किए गए हैं जिनके जरिए बिना इंटरनेट और स्मार्टफोन के भी यूपीआई पेमेंट को अंजाम दिया जा सकता है।

आज भी भारत में तकरीबन 40 करोड़ लोग कीपैड मोबाइल फोन यानी कि फीचर फोंस का इस्तेमाल करते हैं। अभी तक सुविधाजनक तरीके से यूपीआई पेमेंट का इस्तेमाल करने के लिए इंटरनेट और स्मार्टफोन की जरूरत पड़ती थी जिसके कारण यह 40 करोड़ लोग यूपीआई से नहीं जुड़ पा रहे थे। इन्हीं 400000000 फीचर फोन यूजर्स को यूपीआई पेमेंट की सुविधा से जोड़ने के लिए इस नए वर्जन को लांच किया गया है।

इस वर्जन में आपको अपने कीपैड मोबाइल फोन से यूपीआई पेमेंट के लिए कॉल करना होगा और अपनी जरूरी जानकारियां देनी होंगी जिसके बाद आपका यूपीआई अकाउंट आपके कीपैड मोबाइल फोन से अटैच कर दिया जाएगा। जानकारियां उपलब्ध कराने के बाद आपको अपना यूपीआई पिन बनाना होगा जो 4 से 6 डिजिट का होगा।

भले ही आप यूपीआई पेमेंट अपने स्मार्टफोन से करें या फिर कीपैड मोबाइल फोन से लेकिन आपके लिए 4 या 6 डिजिट का यूपीआई पिन जरूरी होगा। यूपीआई पिन दर्ज करने के बाद ही डिजिटल लेनदेन संभव होगा।

2. UPI Autopay: हर ड्यू डेट पर स्वतः से हो जाएगा भुगतान –

हाल ही में यूपीआई 2.0 के तहत ही यूपीआई स्वतः भुगतान का नया फीचर भी जोड़ा गया है। दरअसल UPI Autopay एक ऑटोमेटिक बिलिंग पेमेंट सिस्टम है जिसका इस्तेमाल करके उन सभी जरूरी सर्विसेज का भुगतान अपने आप हो जाएगा जिनके लिए हमें बार-बार पेमेंट करना पड़ता है।

इसका इस्तेमाल करके कोई भी आसानी से अपने बिजली बिल, EMI मोबाइल रिचार्ज और डिजिटल रिचार्ज जैसी जरूरी सेवाओं के लिए भुगतान किया जा सकता है। यह ऐसी सेवाएं हैं जिन्हें हर महीने शुरू करने के लिए भुगतान करना पड़ता है। जबकि ईएमआई के मामले में कई बार समय से न भुगतान करने के कारण आपको एक्स्ट्रा चार्ज भी देना पड़ता है। इन्हीं समस्याओं से उबरने के लिए इस नए फीचर को बनाया गया है जिसके उपयोग मात्र से सभी जरूरी सेवाओं के लिए भुगतान अपने आप ही हो जाता है।

3. UPI से जोड़ सकेंगे Credit Card –

यूपीआई के पुराने वर्जन में केवल डेबिट कार्ड का इस्तेमाल करके ही ऑनलाइन लेनदेन और भुगतान किया जा सकता था लेकिन अब यूपीआई 2.0 के नए वर्जन में अपने यूपीआई अकाउंट के साथ क्रेडिट कार्ड भी जोड़ा जा सकता है।

यानी कि अब आपको यूपीआई पेमेंट के लिए Buy Now, Pay Later की सुविधा प्रदान की जाएगी। आप अपने क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करके यूपीआई से आसानी से ऑनलाइन शॉपिंग वगैरह कर सकते हैं और बाद में इनका भुगतान कर सकते हैं।

4. UPI में हो सकेगा Offline Wallet का इस्तेमाल –

यूपीआई 2.0 के जरिए अब यूपीआई पेमेंट करने के लिए ऑफलाइन वॉलेट की सुविधाएं भी प्रदान की जाएंगी। यानी कि आप अपनी सुविधा के अनुसार वॉलेट में पैसे ऐड करके अपनी जरूरत पर ऑफलाइन भुगतान का फायदा उठा सकेंगे।

5. UPI से जुड़ेंगे डिजिटल रूपए –

हाल ही में भारत सरकार ने सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी को रिटेल सर्विसेज के लिए लांच किया है। भारत सरकार ने डिजिटल करेंसी यानी कि डिजिटल रुपयों की लांचिंग के दौरान साफ तौर पर यह बात रखी थी कि आगे चलकर डिजिटल रुपयों को भी यूपीआई पेमेंट का हिस्सा बनाया जा सकेगा और यूपीआई अकाउंट से ऐड किया जा सकेगा। यानी कि अब हम अपनी यूपीआई आईडी में अपने बैंक अकाउंट के जरिए डिजिटल रुपयों का लेनदेन करने में भी सक्षम होंगे।

तो दोस्तों यह कुछ नए और मजेदार फीचर्स थे जिन्हें यूपीआई 2.0 वर्जन में अपडेट किया गया है या फिर किया जाने वाला है। उम्मीद करते हैं कि यूपीआई 2.0 से जुड़ी जानकारियां आपको पसंद आई होगी।

इन्हें भी जाने

Leave a Comment