Advertisements

World Aids Day 2022: विश्व एड्स दिवस कब और क्यों मनाया जाता हैं?

एड्स (AIDS) क्या है? विश्व एड्स दिवस का 2022 थीम क्या है? विश्व एड्स दिवस कब और क्यों मनाया जाता हैं? (World Aids Day in hindi, HIV Full Form in hindi)

विश्व एड्स दिवस 2022 ( World Aids Day) 1 दिसंबर 2022 को पूरी दुनियां में विश्व एड्स दिवस लोगों में इसके प्रति जागरुकता फैलाने के लिये मनाया जाता है। यह बहुत ही घातक व लाइलाज बीमारी है। जानकारी ही इसका बचाव है। इस दिन कई प्रकार के जागरुकता कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे जिसमें हेल्थ सेक्टर में काम करने वाले प्रतिनिधि और बड़े-बड़े डॉक्टर सम्मिलित होंते है और यहां पर लोगों को भी आमंत्रित किया जाता है जहां एड्स जैसी घातक बीमारी की विभिन्न प्रकार की भ्रांतियां को दूर किया जाता है जिससे से जनमानस को पास सहीं जानकारी प्राप्त हो।

इस लेख के माध्यम से हम आपको विश्व एड्स दिवस कब और क्यों मनाया जाता हैं? 2022 में विश्व एड्स दिवस का थीम क्या है अगर आप इसके बारे में कुछ भी नहीं जानते हैं तो हमारे साथ आर्टिकल पर आखिर तक बने रहे रहें तो चलिए शुरू करते हैं।

Advertisements

इन्हें भी जानें- भारत का पहला प्राइवेट रॉकेट Vikram-S

विश्व एड्स दिवस कब और क्यों मनाया जाता हैं?  World-Aids-Day-in-hindi

एड्स (AIDS) क्या है?

एक तरह का संक्रामक रोग है जिसकी वजह से शरीर की वाइट ब्लड सेल खत्म होने लगते है और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता लगातार कम (क्षीण) होती रहती है। इसको हम एचआईवी एड्स ह्यूमन इम्यूनो डेफिशिएंसी (human immunodeficiency virus) नाम के वायरस के शरीर में प्रवेश व संक्रमित होने के कारण होता है। यह रोग दूषित रक्त, इंफेक्टेट इंजेक्सन से टीका लगवाने, सीमन व असुरक्षित यौन संबंध के कारण एचआईवी का वायरस शरीर में प्रवेश कर सकता है। इसका अभी तक कोई कारगर और समुचित इलाज व उपचार उपलब्ध नहीं है। इससे बचाव व इसकी समुचित जानकारी ही इसका इलाज है।

विश्व एड्स दिवस कब हैं? (World Aids Day)

विश्व एड्स दिवस 1 दिसंबर 2022 को पूरे दुनिया में उत्साह पूर्वक और हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा इस दिन विभिन्न प्रकार के स्वास्थ संबंधित कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे इसमें लोगों को एड्स जैसी घातक बीमारी से कैसे बचना है उसके बारे में जानकारी दी जाएगी ताकि लोग आसानी से समझ सके कि एड्स बीमारी कितनी घातक है I

विश्व एड्स दिवस कब और क्यों मनाया जाता हैं?

World aids day 1 दिसंबर 2022 को दुनिया के सभी देशों में मनाया जाएगा जैसा कि आप लोग जानते हैं कि एड्स काफी घातक बीमारी है और एक बीमारी से बचने के लिए आपको सबसे पहले एड्स बीमारी के बारे में जानना होगा की बीमारी का प्रचार प्रसार कैसा होता है यही वजह है कि पूरी दुनिया में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य विश्व एड्स दिवस मनाया जाता है

जानलेवा बीमारी एड्स का इतिहास क्या है?

इस बीमारी का 20वी शताब्दी में अफ्रिका के कांगों से हुआ था। यह वायरस पहले बंदरों में पाया जाता था लेकिन अफ्रीका में बंदरों को खाये जाने के प्रचलन के कारण यह एचआईवी वायरस मनुष्य के शरीर में पहुंचा। माना जाता है इसका व्यापक प्रसार अफ्रिकी देश कांगो की राजधानी किशांसा से हुआ। यहां से यह यौन संक्रमण से पूरी दुनियां तक फैला।

विश्व एड्स दिवस की शुरुआत

विश्व एड्स दिवस 8 दिसंबर को पूरी दुनिया में मनाया जाता है विश्व एड्स दिवस मनाने के पीछे की वजह है कि इस घातक बीमारी से लोगों को बचाना लोगों में बीमारी के प्रति जागृति लाने के उद्देश्य से मनाया जाता है सबसे पहले सबसे पहले 1987 में डब्ल्यूएचओ के द्वारा विश्व एड्स दिवस मनाने की परंपरा शुरू हुई है उसके बाद से पूरे दुनिया में 1 दिसंबर से विश्व एड्स दिवस मनाने का सिलसिला जारी हुआ जो आज तक कायम है इस दिन विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं जिसमें लोगों को बताया जाता है कि इस किन कारणों से फैलता है और आप इस बीमारी को कैसे रोक सकते हैं ताकि हर एक व्यक्ति इस बीमारी के बारे में जान सके इस बीमारी का समाप्ति करण तभी होगा जब सभी लोग इस बीमारी के प्रति जागरूक हो गए क्योंकि सामूहिक प्रयास से इस बीमारी को हराया जा सकता है I

विश्व एड्स दिवस कैसे मनाया जाता हैं?

विश्व एड्स दिवस दुनिया के प्रत्येक देश में मनाया जाता है सबसे महत्वपूर्ण बात है कि इस दिन विश्व स्वास्थ्य संगठन डब्ल्यूएचओ में विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैंI  जिसमें दुनिया के स्वस्थ क्षेत्र में काम करने वाले संगठन डॉक्टर और हेल्थ सेक्टर के कर्मचारी सम्मिलित होते हैं ताकि वह अपनी बातों को रख सके इसके अलावा डब्ल्यूएचओ अपनी एक रूपरेखा यहां पर प्रस्तुत करता है और साथ में इस बात के जरूरी दिशा-निर्देश भी जारी करता है कि इस बीमारी को अगर जड़ से समाप्त करना है तो हमें और भी कौन सी चीजें करनी चाहिए ताकि इस बीमारी को पूरी तरह से उन्मूलन किया जा सकेंI

इसके अलावा कई लोग अपने विचारधारा और सुझाव भी यहां पर रखते हैं ताकि उनके सुझाव के अनुसार भी एक योजना का निर्माण किया जा सके क्योंकि आप लोगों को मालूम ही है कि एड्स जैसी घातक बीमारी को अगर ना रोका गया तो इससे कई लाख लोगों की मृत्यु हो सकती है क्योंकि एड्स बीमारी पहले के समय जब लोगों को होती थी तो उनका बच पाना काफी मुश्किल था। आज के समय में कुछ एड्स की दवाईयां उपलब्ध है जिनसे इसको पूरी तरह से खत्म तो नहीं परंतु कुछ समय के लिये टाला जा सकता है। जिससे इस बीमारी से ग्रसित व्यक्ति को सहानुभूति व उचित इलाज के द्वारा उनकी औसत उम्र को बढाया जा सकता है।

विश्व एड्स दिवस थीम 2022

विश्व एड्स दिवस प्रत्येक साल एक विशेष टीम के माध्यम से मनाया जाता है इस साल 2022 में  विश्व एड्स दिवस का थीम हैI “कम्युनिटीज मेक द डिफरेंस”। इसके अनुसार इस दिवस को इस बार मनाया जाएगाI

FAQ

एड्स दिवस क्यों मनाया जाता है?

विश्व एड्स दिवस, 1987 के बाद से 1 दिसंबर को हर साल मनाया जाता है, जिसका उद्देश्य एचआईवी संक्रमण के प्रसार को रोकना है इसके अलावा जिन व्यक्तियों की मृत्यु एड्स कारण हो गई है उनके प्रति सद्भावना व्यक्त करना।

एड्स के जनक कौन थे?

पहला मामला ‘गैटन दुगास’ नामक व्यक्ति में मिला। गैटन पेशे से एक कैनेडियन फ्लाइट अटेंडेंट था। उसने कई लोगों को संक्रमित कियाI

क्या एचआईवी का मरीज ठीक हो सकता?

एड्स एक लाइलाज बीमारी है, फिर भी एड्स का इलाज आज के तारीख में संभव है क्योंकि एचआईवी संक्रमित व्यक्ति भी सही चिकित्सा और उपचार के द्वारा अधिक दिनों तक जीवन जी सकता हैI

कितने लोगों से संबंध बनाने से एचआईवी होता है?

अगर आप एक बार अपने साथी के साथ असुरक्षित ढंग से यौन संबंध स्थापित करते हैं तो ऐसी स्थिति में आप इस बीमारी के शिकार हो सकते हैं इसके अलावा कई लोग एक से अधिक लोगों के साथ संबंध स्थापित करते हैं उसी स्थिति में भी व्यक्ति को एचआईवी हो सकता है इसलिए आप हमेशा संबंध स्थापित करते समय कंडोम का इस्तेमाल करें ताकि आप इस गंभीर बीमारी से बच सकेI

कितने लोगों से संबंध बनाने से एचआईवी होता है?

अगर आप एक बार अपने साथी के साथ असुरक्षित ढंग से यौन संबंध स्थापित करते हैं तो ऐसी स्थिति में आप इस बीमारी के शिकार हो सकते हैं इसके अलावा कई लोग एक से अधिक लोगों के साथ संबंध स्थापित करते हैं उसी स्थिति में भी व्यक्ति को एचआईवी हो सकता है इसलिए आप हमेशा संबंध स्थापित करते समय कंडोम का इस्तेमाल करें ताकि आप इस गंभीर बीमारी से बच सके

विश्व एड्स दिवस पहली बार कब मनाया गया था?

1987 में पहली बार विश्व एड्स दिवस मनाया गया थाI

आइये इन्हें भी जाने-

Leave a Comment