Advertisements

अंतर्राष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय महिला दिवस कब मनाया जाता है | National Women day in hindi

National Women day in hindi , राष्ट्रीय महिला कब मनाया जाता है? जानिये इसके पीछे का इतिहास, सरोजिनी नायडू की जयंती, International Women’s day story, अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का इतिहास एवं कहानी

आज के समय जहां नारी के सम्मान के लिए विभिन्न प्रकार की मुहिम छेड़ी जाती है, और बड़े-बड़े प्रोटेस्ट के द्वारा नारी को सम्मान और उनका हक दिलाने की कोशिश की जाती है, वहीं पर संस्थागत और हर तरीके से भी महिलाओं को मान सम्मान देने की कोशिश की जाती है। हमारे देश में जन्मी एक महान महिला जिनका नाम सरोजिनी नायडू था, उनके सम्मान में आज हमारे देश में राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है।

Advertisements

इसीलिए हमारे द्वारा यह जानना जरूरी हो जाता है कि क्यों सरोजिनी नायडू के सम्मान में क्यों राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है, और राष्ट्रीय महिला दिवस क्यों तथा किस लिए मनाया जाता है, इसके अलावा यह भी जानेंगे कि अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस कब मनाया जाता है? (National & International Women’s day hindi) आज के लेख में हम महिला दिवस के बारे में पूरी जानकारी हासिल करेंगे।

National Women day in hindi | राष्ट्रीय महिला दिवस

राष्ट्रीय महिला दिवस कब मनाया जाता है? (National Women Day in hindi)

राष्ट्रीय महिला दिवस 13 फरवरी को हर वर्ष मनाया जाता है। यह दिवस श्रीमती सरोजिनी नायडू की जयंती पर हर साल मनाया जाता है। और इस बार सरोजिनी नायडू  की 142 वी जयंती मनाई जाएगी। श्रीमती सरोजिनी नायडू का जन्म 13 फरवरी 1879 को हुआ था। उन्हें भारत की बुलबुल और भारत की कोयल के नाम से भी जाना जाता है। उनके द्वारा रची गई कविताएं इतिहास में अमर है।

राष्ट्रीय महिला दिवस का इतिहास एवं महत्व(History of National Women’s Day)

श्रीमती सरोजिनी नायडू ने केवल भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन की एक प्रमुख नेता थी। उन्हें भारत की पहली महिला राज्यपाल बनने का गौरव प्राप्त है। उन्होंने बढ़-चढ़कर के असहयोग आंदोलन में भाग लिया था। इसके अलावा भारत छोड़ो आंदोलन में भी उन्होंने हिस्सा लिया था।  ब्रिटिश साम्राज्य के कॉलोनियल रूल के खिलाफ वे भारत के स्वतंत्रता आंदोलन की एक प्रमुख चेहरा थी।

उनकी याद में और उनके जन्म दिवस के ऊपर हर वर्ष भारत में राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है। क्योंकि सरोजिनी नायडू को महिलाओं का आदर्श मानते हुए यदि भारत अपने पथ पर आगे बढ़ेगा तो महिलाओं को निडर हो कर के अपना काम करने की और आत्मविश्वास से भरे रहने की सदैव प्रेरणा मिलती रहेगी।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस कब मनाया जाता है? (International Women’s Day hindi)

पूरे विश्व में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 8 मार्च को मनाया जाता है। United Nations ने पहली बार 8 मार्च 1975 को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का आयोजन किया था।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का इतिहास (History of international Women’s Day)

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस महिलाओं के द्वारा सांस्कृतिक, राजनैतिक, और आर्थिक सामाजिक उपलब्धियों को सेलिब्रेट करने के लिए मनाया जाने वाला एक पर्व है। और इस पर्व को पूरे विश्व में सेलिब्रेट किया जाता है। यह महिलाओं के अधिकार के लिए किए जाने वाले आंदोलन का एक मुख्य चेहरा है।

इस दिवस के तौर पर  लैंगिक समानता तथा महिलाओं के लिए समान अधिकार और महिलाओं के प्रति घृणा और दुष्कर्म तथा हिंसा के प्रति सुरक्षा का अधिकार भी महिलाओं को इस दिवस के तौर पर मिलता है।

क्या थी कहानी?

लगभग 20 वी शताब्दी में अमेरिका और यूरोप के  मजदूर आंदोलन के तौर पर यह महिला सशक्तिकरण का मुद्दा उठा था। जिसमें मुख्य तौर पर यह बताया जा रहा था कि पुरुषों के बराबर काम करने के बावजूद भी महिलाओं को वेतन कम दिया जा रहा था। और इसके खिलाफ महिलाओं ने  आंदोलन करके समान वेतन का अधिकार प्राप्त किया था।

इस बात से खुश हो कर के 28 फरवरी 1919 को कुछ जर्मन डेलिगेट काफी ज्यादा खुश हुए और उन्होंने प्रपोज किया कि महिलाओं के लिए एक स्पेशल दिन होना जरूरी है। इस बात को पूरे विश्व में माना लेकिन उस समय इसके लिए एक तारीख निश्चित नहीं थी। यह वह पल था जब पहली बार विश्व महिला दिवस और International Women’s Day की झांकियां इस समाज में नजर आने लगी थी।

लेकिन आज के समय विश्व महिला दिवस 8 मार्च को मनाया जाता है, और इसका मुख्य कारण समाजवादी आंदोलन तथा कम्युनिस्ट कंट्रीज है। यह अंतरराष्ट्रीय दिवस एक तरीके से International Womens day holiday  घोषित करता है। इसे 8 मार्च को मूल रूप से रूस में मनाया जाने लगा था, जो कि 8 मार्च 1917 को मनाया जाता था। लेकिन इसे जब 1960 में एक फेमिनिस्ट मूवमेंट का साथ मिला तब यह लोगों की नजरों में आने लगी। और सबसे ज्यादा प्रचलित होगी। इसके बाद में सन 1977 में United Nations ने इसी तारीख को अपनाया और 8 मार्च 1977 को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस घोषित किया गया।

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस 2022, आइये जाने इसके पीछे का पूरा इतिहास

निष्कर्ष

महिलाओं का समाज में बहुत बड़ा योगदान है, जिसे नकारा नहीं जा सकता। समाज महिलाओं के बिना पूरा कभी नहीं हो सकता। और इसी  लेख में आज हमने जाना कि राष्ट्रीय National Aur International Women’s day kab aur Kyon Manaya jata hai?, इनके मनाए जाने के पीछे के क्या कारण है, यह सबसे पहले कब बनाए गए थे, और आज के समय इनका क्या स्कोप है, इसके बारे में हमें सारी जानकारी हासिल  करी।

1 thought on “अंतर्राष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय महिला दिवस कब मनाया जाता है | National Women day in hindi”

  1. विश्व महिला दिवस की आपके द्वारा दी गई जानकारी बहुत ही प्रेरणादायक एवं सराहनीय हैं।
    जय श्रीराम जय श्री हनुमान, आप सभी आदरणीय लोगों को।

    Reply

Leave a Comment