दुनिया के सबसे जहरीले व घातक बिच्छू | World Most Poisonous Scorpion facts in hindi

वैज्ञानिकों ने खोजा, 43 करोड़ साल पुराना दुनिया के सबसे बड़े बिच्छू का जीवाश्म

वैसे मनुष्य को इनसे डरने की आवश्यता नहीं है इनकी केवल 30 प्रजातियों में ही घातक जहर भरा होता है। परंतु ध्यान देने वाली बात यह है कि इस जहरीले जीव की एक बूंद ही किसी भी मनुष्य व बड़े से बड़े जीव-जन्तु को मिनटों में परलोक पहुंचा सकती है।

World Most Poisonous Scorpion facts in hindi आज के इस लेख में ऐसे बिच्छुओं के बारे में बताने जा रहे हैं जिनका आकार करोड़ो साल पहले किसी कुत्ते से भी बड़ा हुआ करता था। यह खोज 80 सालों में की गई सबसे बड़ी खोज हैं। इसके अलावा हम आपको ऐसे बिच्छु के बारें में भी बताएंगे जिसके जहर की एक बूंद की कीमत लाखों करोड़ों में हैं। चलिये शुरु करते हैं।

World Most Poisonous Scorpion facts in hindi
Facts about scorpion in hindi

दुनिया के सबसे बड़े बिच्छू का जीवाश्म

बिच्छु के बारे में अन्य फैक्ट शुरु करने से पहले आइये जानते है दुनियां के प्राचीन व सबसे बड़े बिच्छु के बारे में जोकि हॉल में ही Archaeologists द्वारा खोजा गया है।

इसके जीवश्म चीन में एक खोज के दौरान मिले हैं। अध्ययन के दौरान चौकाने वाले तथ्य सामने आये है जिनको जानकर शोधकर्ता का सर चकरा गया। इन्होंने इसकी उम्र लगभग 43 करोड़ साल बताई और कहा पहले पृथ्वी पर 3.3 फुट के बिच्छु हुआ करते थे।

जिसके अवशेषों से पता चलता है कि इसकी लंबाई किसी कुत्ते से भी बड़ी हो सकती है। इन जीवाश्मों की उम्र लगभग 43 करोड़ साल पुरानी बताई गई हैं। इस खोज की जानकारी हम सांइस बुलेटिन जनरल में विस्तार से देख सकते हैं। सुमंद्र रहने वाले इन बिच्छुओं का वैज्ञानिक नाम Eurypterids के रखा गया था।

वैज्ञानिकों का मानना है कि यह समुंद्री जीव अपने खाने की खोज करते-करते धरती पर विचरने लगे थे और अपने बड़े आकार के वजह से बहुत ही आतंक मचाने लगे। बिच्छुओं की इस प्रजाति को टी- जियुशनेसिस /T. xiushanensis का नाम दिया गया था। लेख में रिसर्चो के अनुसार इस तरह के जीवाश्म वैज्ञानिकों को पिछले आठ दशकों से नहीं हुई है। यह अब तक हुई सबसे बड़ी खोजों में एक है। (source)

बिच्छू का जहर कितना महंगा होता है?

एक बिच्छू के जहर की कीमत करोड़ों में हो सकती है। बिच्छू के जहर की कीमत इस बात पर निर्भर करती है कि बिच्छू किस प्रजाति का है तथा उसके जहर में किस प्रकार के विनाशक तत्व या रासायनिक तत्व शामिल है। बिच्छु के जहर में ChloroToxine पाया जाता है जो कैंसर का इलाज करता है।

बिच्छू के जहर से भयानक और असंभव बीमारियों का इलाज किया जाता है बिच्छू के जहर से कैंसर के थर्ड स्टेज में मरीजों का इलाज किया जा सकता है।

कैंसर के मरीजों के लिये वरदान है नीले बिच्छु का जहर

एक किंग कोबरा सांप का 1 लीटर जहर 30,2,00,000 रुपये में आ जाता है लेकिन दुनिया में ऐसे दुर्लभ प्रजाति के बिच्छू भी पाये जाते हैं जिनके जहर की कीमत 75 करोड़ तक की है। क्यूबा में पाये जाने नीले रंग के इस बिच्छू के जहर का इस्तेमाल कैंसर की दवाईयों में किया जाता है। इससे विडटॉक्स नामक दवाई बनाई जाती है। इसके अलावा इसका यह जहर गठिया व हड्डियों की बिमारी के इलाज में भी किया जाता है।

बिच्छू के जहर में 5,00,000 से भी ज्यादा योगिक मौजूद होते हैं जिनमें से बहुत कम योगिको की पहचान हो पाई है। मेडिकल क्षेत्र में इस पर लगातार शोध व रिसर्च कार्य हो रहा हैं। यही कारण है कि इस बिच्छू के जहर की कीमत अंतर्राष्ट्रीय बाजार में करोड़ो की है।

बिच्छू का जहर कितना खतरनाक होता है?

बिच्छु का जहर बहुत ज्यादा खतरनाक होता है। खासकर एक छोटे बिच्छु का जहर ज्यादा ऽतरनाक होता है। यदि एक बार बिच्छू आपको काट ले तथा है बिच्छू आकार में बहुत छोटा हों तो आप की मृत्यु होने की संभावना 4 गुना बढ़ जाती है। बिच्छू के जहर से बहुत ही ज्यादा कीमती दवाइयां बनाई जाती है।

बिच्छू का डंक मारना आपके शरीर में लकवा पैदा कर सकता है। जल्दी इलाज न किया जाए तो आपके दिल की धड़कन ही रोक सकता है।

बिच्छू की सबसे जहरीली प्रजातीयां (World Most Poisonous Scorpion facts in hindi)

इंडियन रेड स्कोर्पियन (Indian Red Scorpion)

पूरी दुनिया में बिच्छू की हजारों प्रजातियां पाई जाती है जिसमें Indian Red Scorpion विश्व की सबसे जहरीली प्रजाति में से एक है इसकी मात्र एक बूंद ही एक व्यक्ति की जान लेने के लिए काफी है।

Indian Red Scorpion के द्वारा मारे गए व्यक्तियों की संख्या हजारों में है Indian Red Scorpion ने हजारों लोगों की जान ले ली है।

ऐसा कहा जाता है कि Indian Red Scorpion का जहर यदि किसी व्यक्ति के शरीर में प्रवेश कर जाए तो उसके जीवित रहने के आसार 0.4% रह जाते हैं।

मूल रूप से भारत नेपाल श्रीलंका और पाकिस्तान में पाया जाता है। यह भारत के राजस्थान तथा पाकिस्तान के सिंध बलूचिस्तान एरिया में बहुत ज्यादा पाया जाता है।

इसके जहर का एंटीडोज देने के बाद भी व्यक्ति का जीवित बचना बहुत ही मुश्किल है। यह नारंगी भूरे और ग्रे कलर में पाए जाते हैं आकृति में छोटे होते हैं लेकिन इनका जहर बहुत खतरनाक होता हैं।

डेथ स्टाल्कर (Death Stalker)

दुनियां के सबसें खतरनाक और घातक बिच्छुओं की श्रेणी में अव्वल स्थान रखता है इसके नाम से ही आप जान गये होंगे जिसके नाम में डेथ अथवा मृत्यु हुआ जुड़ा है तो वह कितना ही खतरनाक होगा। इसका जहर से आदमी का शरीर बुरी तरह से तड़प उठता हैं।

यह मुख्यतः उत्तरी अफ्रीका, थार व अरब मरुस्थल, इजराइल, फिलीस्तीन मध्य और पश्चिमी एशिया में रेगिस्तानी इलाकों में मिलता है। यह बिच्छु बडे़ से बड़े और छोटे से छोटे जानवर को बचने का एक मौका भी नहीं देता हैं। यदि इसने किसी को सहीं से डंक मार दिया तो उसका मरना तय होता हैं। (Source)

ब्राजीलियन येलो स्कोर्पियन (Yellow Brazilian Scorpion)

इसका जहर बहुत ही खतरनाक होता है। इस बिच्छु के काटने से पूरा शरीर सुन्न हो जाता है असहनीय दर्द होता है और व्यक्ति आधे घंटे में ही मृत्यु को प्राप्त हो जाता है इसके जहर से हर वर्ष 3000 लोगों की मौत होती है। यह बिच्छु उत्तर व दक्षिण अमेरिका में मुख्यत मिलता है।

अरेबियन फैट टेल्ड स्कोर्पियन (Arabian Fat Tailed Scorpion)

इसका जहर इतना घातक होता है कि यह बड़े से बड़े जीव को अपने जहर से पैरालाइज कर सकता है। यह बिच्छु भूरे व गहरे काले रंग का होता है। इसकी पुंछ मोटी होती है। यह मुख्यतः अरब क्षेत्र लीबीया, मिस्र, कतर, लीबिया व उत्तरी अफ्रिकी जैसे देश में इस प्रजाति के बिच्छु पाये जाते हैं। 

एम्पेरर स्कोर्पियन (Emperor Scorpion)

यह एक शांत प्रवृति का बिच्छु हैं आपको जानकर हैरानी होगी की कोई इसे कोई बना च्मज भी बना सकता हैं। कुछ अजीब शौक रखने वाले लोग इस बड़े चाव से पालते हैं। इसकी लंबाई छ इंच का हो सकती हैं।

बिच्छू से जुड़े रोचक तथ्य (Interesting facts about scorpion in hindi)

1. आपको जानकर हैरानी होगी कि बिच्छू के डंक से जहर निकालना सांप के दातों से जहर निकालने के तुलना में बहुत मुश्किल होता है।

2. एक बिच्छु के पिता ज्यादा जीने के लिए प्रजनन करते है और एक बिच्छु की मां जब अपने बच्चो को बड़ा करती है तो उसके बच्चे उसे अंत में पूरा चबा जाते है।

3. बिच्छू की उम्र की बात की जाए तो एक बिच्छु 1 साल से लेकर 25 साल तक जिन्दा रह सकता है।

4. बिच्छु एक साल तक बिना कुछ खाये पिये रह सकता है दरसाल यह शीतकाल में अपने बिल में छिपे रहते हैं यह अपना मेटालिज्म को बहुत अधिक धीमा करने में सक्षम होते है यह लंबे समय तक कुछ नहीं खाकर पर जी लेते हैं।

5. बिच्छु डायनासोर के युग से ही इस पृथ्वी पर वास करते हैं। हाल ही में एक खोज में कुत्ते जितने बड़े बिच्छु के जिवाश्म को खोजा गया हैं।

6. क्यूबा में पाये जाने वाले नीले बिच्छु के जहर में चमत्कारी गुण पाये जाते है इसके जहर का इस्तेमाल कैंसर की दवाईयां बनानें में होता है इसके जहर कीमत लगभग 75 करोड़ रुपये तक हैं।

7. अगर Indian Red Scorpion का जहर यदि किसी व्यक्ति के शरीर में प्रवेश कर जाए तो उसके जीवित रहने के आसार 0.4% रह जाते हैं।

8. Indian Red Scorpion इतना खतरनाक है कि उसके द्वारा मारे गए व्यक्तियों की संख्या हजारों में है और ये सबसे जहरीले बिच्छुओं में से एक है।

9. बिच्छु के पिछले हिस्से पूंछ में इसका डंक आप देख सकते हैं। बिच्छु शुष्क व गर्म प्रदेशों में चट्टानों के नीचे छुपे रहते हैं।

10. बिच्छु के जहर में क्लोरोटॉसिन नाम का तत्व पाया जाता जोकि कैंसर व ट्यूमर से ग्रस्त रोगि की कोशिकाओं को जांचने में काम आता है।

दोस्तों आज हमनें आपकों दुनियां के सबसें बड़े बिच्छु, सबसे खतरनाक जहरीले बिच्छु (World Most Scorpion facts in hindi ) और इनसे जुड़ी रोचक जानकारी देने की पूरी कोशिश की हैं। आगे भी हम आपकों इसी तरह की रोचक जानकारी देते रहेंगे। हम उम्मीद करते कि आपको यह जानकारी पसंद आयी होगी कृपया हमारा हौसाला बढ़ानें और इस तरह की रोचक और उपयोगी जानकारी दुसरों तक पहुंचाये और इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।

Leave a Comment