Advertisements

गणतंत्र दिवस 2023 पर निबंध | Republic Day Essay in Hindi

26 जनवरी गणतंत्र दिवस 2023 पर निबंध हिंदी में, गणतंत्र दिवस पर निबंध लिखें (26 January Essay in hindi, Essay on Republic Day in Hindi)

Republic Day Essay in hindi : भारत में हर साल 26 जनवरी का दिन गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। भारत में गणतंत्र दिवस को राष्ट्रीय पर्व के रूप में मनाया जाता है क्योंकि इसी दिन भारत का संविधान लागू हुआ था।

26 जनवरी 1950 का वह ऐतिहासिक दिन था जिस दिन आधिकारिक तौर पर भारत का संविधान लागू कर दिया गया और एक गणराज्य के रूप में भारत की स्थापना हुई।

Advertisements

तभी से हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाया जाता है। गणतंत्र दिवस केवल भारत की गणतंत्रता का प्रतिनिधित्व नहीं करता बल्कि भारतीय स्वाधीनता आंदोलन और संविधान की पृष्ठभूमि बनाने वाले वीर सपूतों की याद भी दिलाता है।

इस खास मौके पर स्कूल कॉलेज और अन्य विशेष स्थानों पर भाषण कविता पाठ और निबंध लेखन जैसी प्रतियोगिताएं रखी जाती हैं। इसीलिए आज हम लेख में आपके लिए गणतंत्र दिवस पर निबंध (Republic Day Essay In Hindi) लेकर आए हैं, जो गणतंत्र दिवस 2023 (Republic Day 2023)  के मौके पर आपके लिए काम आ सकता है।

Republic Day Essay in Hindi

गणतंत्र दिवस पर निबंध (Republic Day Essay in Hindi)

प्रस्तावना–

भारतीय गणतंत्र दिवस भारत का राष्ट्रीय पर्व है जिसे 26 जनवरी को हर साल भारतीय संविधान लागू होने के उपलक्ष में मनाया जाता है। 26 जनवरी 1950 को भारत का संविधान लागू हुआ था जिसके कारण इस खास तिथि को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाने का निश्चय किया गया।

भारत का संविधान विश्व का सबसे बड़ा लिखित संविधान है। 15 अगस्त 1947 को आजाद होने के बाद भी भारत की शासन व्यवस्था अंग्रेजों से पूरी तरह मुक्त नहीं हो पाई थी क्योंकि शर्त यह थी कि जब तक भारत अपना खुद का संविधान नहीं बना लेता तब तक भारत पर भारत शासन अधिनियम 1935 चलता रहेगा।

26 जनवरी 1950 को आखिरकार भारत का संविधान आधिकारिक तौर पर लागू कर दिया गया और तभी से भारत शासन अधिनियम 1935 भी समाप्त हो गया और भारत को पूर्ण स्वतंत्रता प्राप्त हुई।

अन्य सम्बंधित लेख
1.26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर शानदार अनमोल विचार, कविता, कोट्स के जरिए भेजें शुभकामनाएं
2.26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर शायरी के अंदाज में भेंजे शुभकामनाएं संदेश
3.26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर भाषण
4.भारत के महान स्वतंत्रता सेनानी (Freedom Fighters of India)
5.आजादी का अमृत महोत्सव पर कविता और अनमोल विचार
6.भारतीय सेना को समर्पित कविताएं और शुभकामना संदेश  

पूर्ण स्वराज की घोषणा –

भारत में 26 जनवरी का दिन बेहद ऐतिहासिक महत्व रखता है क्योंकि गणतंत्र दिवस पर संविधान लागू होने के साथ-साथ 26 जनवरी 1930 को ही पूर्ण स्वराज की घोषणा की गई थी। यही कारण है कि 26 जनवरी का दिन ऐतिहासिक दृष्टि से भी बेहद महत्वपूर्ण है।

भारतीय संविधान का निर्माण –

बिना संविधान के भारत में लोकतंत्र की कल्पना भी नहीं की जा सकती थी। भारत को एक लोकतांत्रिक गणराज्य के रूप में स्थापित करने के लिए भारतीय क्रांतिकारियों और महापुरुषों ने भारत का अपना संविधान बनाने का निर्णय लिया।

भारत का संविधान बनाने के लिए संविधान सभा का गठन किया गया जिसकी पहली बैठक 9 दिसंबर 1946 को हुई और संविधान निर्माण की इस पूरी प्रक्रिया में 2 साल 11 माह 18 दिन लग गए जिसके बाद 26 नवंबर 1949 को भारतीय संविधान बनकर तैयार हो गया।

26 जनवरी 1950 को वह ऐतिहासिक दिन आया जब भारत का संविधान पूर्ण रूप से भारत पर लागू कर दिया गया।

गणतंत्र दिवस का महत्व –

गणतंत्र का अर्थ होता है किसी राज्य सत्ता का शासन जनता में निहित होना। गणतंत्र में जनता ही अपने प्रतिनिधि का चुनाव कर कर राज्य सत्ता चलाते हैं। भारत ने सदियों तक अंग्रेजों की गुलामी झेली और हमेशा अंग्रेज भारत जैसे समृद्ध देश को लूटते रहे।

जब भारतीय लोकतंत्र की स्थापना हुई तो एक नए भारत का उदय हुआ। गणतंत्र दिवस केवल भारतीय संविधान से जुड़ा हुआ दिन नहीं है बल्कि यह ऐसा खास दिन है जो हमें उन वीर स्वतंत्रता सेनानियों की याद दिलाता है जिन्होंने हमारी आजादी के लिए अपने प्राण न्योछावर कर दिए थे।

हमें सदैव उनके वीर भारतीय सपूतों के प्रति कृतज्ञ होना चाहिए और उन पर और उनके बलिदान पर उंगलियां नहीं उठानी चाहिए।

उपसंहार –

गणतंत्र दिवस पर हमें एक साथ मिलकर संकल्प लेना चाहिए कि हम अपने संविधान का पालन करेंगे और सदैव इसका सम्मान करेंगे। अगर संविधान में कोई भी त्रुटियां कहीं रह गई हैं तो उन्हें सुधारने के लिए संशोधन की मांग भी करेंगे।

आप सभी को 26 जनवरी गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

Homepage Follow us on Google News

इन्हें भी पढ़ें-

Leave a Comment