Advertisements

विनेश फोगाट का जीवन परिचय | Vinesh Phogat Biography in hindi

विनेश फोगाट का जीवन परिचय, विनेश फोगाट कौन हैं? , पिता का नाम , पति का नाम (Vinesh Phogat Biography in hindi, Commonwealth game gold medal, cast, husband Name, Marriage, Tokyo Olympic, Sisters, Religion, Age )

विनेश फोगाट एक भारतीय महिला पहलवान हैं जिनके नाम एशियाई खेलों में पहला स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान का खिताब है। इतना ही नहीं विनेश फोगाट साल 2019 में लॉरियस वर्ल्ड स्पोर्ट्स अवार्ड्स के लिए नामांकित होने वाली पहली भारतीय बनी।

कुश्ती के क्षेत्र में इनके बेहतरीन प्रदर्शन के लिए इन्हें अर्जुन पुरस्कार से भी नवाजा जा चुका है।

बर्मिंघम में आयोजित कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में एक बार फिर से विनेश फोगाट ने इंडिया के लिए गोल्ड मेडल जीता है। उन्होंने अपने फाइनल मुकाबले में श्रीलंका की पहलवान को हराकर बर्मिंघम में 11 वां गोल्ड मेडल भारत के नाम किया है।

तो आइए इस लेख में हम भारत की जांबाज बेटी विनेश फोगाट का जीवन परिचय जानते हैं और आपको बताते हैं कि कैसे एक एक करके इन्होंने अपने नाम कई खिताब हासिल किए। उन्होंने कैसे इतनी कम आयु में महारत हासिल करी और अपने परिवार का नाम रोशन किया।

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 – रेसलर दीपक पुनिया का जीवन परिचय

विषय–सूची

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में जीता गोल्ड मेडल (Commonwealth game 2022 gold medals)

कॉमन वेल्थ गेम्स 2022 में वेटलिफ्टिंग और कुश्ती दोनों ही खेलों में भारत का प्रदर्शन सर्वश्रेष्ठ रहा। 6 अगस्त 2022 कि रात बर्मिंघम में हो रहे कामनवेल्थ गेम्स के कुश्ती के मुकाबले में विनेश फोगाट ने भारत के लिए गोल्ड मेडल जीता है। यह भारत के लिए कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में 11 वा गोल्ड मेडल है।

बर्मिंघम में भारत को कुश्ती के खेल में कुल मिलाकर 5 गोल्ड मेडल मिले हैं जिनमें से दो गोल्ड मेडल रवि कुमार दहिया और हरियाणा के भिवानी जिले की बेटी विनेश फोगाट ने एक ही दिन जीते हैं।

विनेश फोगाट ने कामनवेल्थ गेम्स में लगातार तीसरी बार गोल्ड मेडल अपने नाम किया है। इससे पहले उन्होंने कॉमनवेल्थ गेम्स 2014 में 48 किलोग्राम भार कैटेगरी में राष्ट्रमंडल खेल में अपना पहला गोल्ड मेडल जीता था और साल 2018 में एक बार फिर से कामनवेल्थ गेम्स में 50 किलोग्राम भार कैटेगरी स्वर्ण पदक विजेता बनी।

Advertisements

और अब बर्मिंघम में हो रहे कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में उन्होंने एक बार फिर से 53 किलो ग्राम भार वर्ग में राष्ट्रमंडल खेल में अपना तीसरा गोल्ड मेडल जीता है। विनेश फोगाट का पहला मुकाबला कनाडा की पहलवान सामंथा ली स्टीवर्ट के साथ हुआ था जिसमें उन्होंने महज 36 सेकंड में अपनी जीत दर्ज की।

इसके बाद उनका दूसरा मुकाबला नाइजीरिया की पहलवान मर्सी से हुआ जिसे हराकर विनेश फोगाट गोल्ड मेडल की प्रबल दावेदार बनी। विनेश फोगाट का फाइनल मुकाबला श्रीलंका की पहलवान चामोडया केशानी से हुआ जिन्हें 4-0 से हराकर विनेश फोगाट गोल्ड मेडल विजेता बनी।

विनेश फोगाट के इस गोल्ड मेडल को मिलाकर भारत ने बर्मिंघम में अब तक कुल 33 मेडल जीते हैं जिनमें से 11 गोल्ड मेडल, 11 सिल्वर मेडल और 11 ब्रॉन्ज मेडल हैं।

जबकि इन 11 गोल्ड मेडल में से 5 गोल्ड मेडल भारत को कुश्ती के खेल में ही मिले हैं जिन्हें क्रमशः बजरंग पुनिया, साक्षी मलिक, दीपक पुनिया, रवि कुमार दहिया और विनेश फोगाट ने जीता है।

इन्हें भी पढ़ेंकॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में जीता गोल्ड मेडल

विनेश फोगाट का जीवन परिचय (Vinesh Phogat Biography hindi)

विनेश फोगाट कौन हैं?

विनेश फोगाट का जन्म 25 अगस्त 1994 में हरियाणा राज्य में हुआ रहा। विनेश हरियाणा में भवानी जिले के छोटे से गांव बलाली की रहने वाली है। इनकी उम्र 26 वर्ष है। विनेश का जन्म पहलवान घराने में हुआ था। इसलिए बचपन से ही उन्हें पहलवानी करने का शौक रहा है। विनेश ने अपने पिता को बचपन में ही खो दिया था। उसके बाद उनकी माता ने उन्हें बड़े लाड प्यार से पाला था।

पिता की मृत्यु का कारण उनके दुश्मन थे जो गांव की जमीन के मसले के चलते उनका कत्ल कर दिए थे। बाद में विनेश के चाचा महावीर सिंह फोगाट ने उनको कुश्ती मे करियर बनाने के लिए अपनी अहम भूमिका निभाई। विनेश अपने चाचा महावीर सिंह फोगाट के सानिध्य में रहकर पहलवानी का प्रशिक्षण लिया था। जोकि अपने समय में एक मंझे हुए पहलवान रेह चुके थे।

महावीर सिंह फोगाट को गुरु द्रोणाचार्य अवॉर्ड से सम्मानित किया जा चुका है। उनकी बेटियां ने भी अपने पिता से कुश्ती की कई सारे गुण सीखे हैं। उनकी पुत्री का नाम गीता और बबीता फोगाट भी कुश्ती की दुनिया में काफी प्रसिद्ध हुई है।

विनेश फोगाट के बारे में जानकारी (Vinesh phogat Biography in hindi)

पूरा नाम (Full Name)विनेश फोगाट
जन्म (Date of Birth)25 अगस्त 1994
जन्म स्थान (Birth Place)बालाली, हरियाणा, भारत
राष्ट्रीयता (Nationality)भारत
धर्म (Religion)हिन्दू
जाति (Cast)जाट
स्कूल (School)के. सी. एम. सीनियर सेकेंडरी स्कूल, झोजु कलां, हरियाणा
पेशा (Occupation)फ़्रीस्टाइल कुश्ती
नेट वर्थ (Net Worth)$ 5 Million
कोच (Coach)ओ. पी. यादव, वोलर अकोस
लम्बाई (Height)160 से॰मी॰ (5 फीट 3 इंच)
वजन (Weight)48 किग्रा
रैंकिंग (Ranking)No. 1 (World Ranking)
परिवार (Family Detail)
पिता (Father Name)राजपाल सिंह फोगाट
माता (Mother Name)प्रेमलता
वैवाहिक स्थिति (Marital Status)वैवाहिक (13 दिसंबर 2018)
शादी की तारीख (Marital Date)13 दिसंबर 2018
पति का नाम (Husband Name)सोमवीर राठी (पहलवान)
बच्चें कोई नहीं
भाई (Brother)हरविंदर सिंह
बहन (Sisters)प्रियंका फोगाट (पहलवान)
चचेरी बहनेंबबीता कुमारी , गीता फोगाट, रितु फोगाट (पहलवान)

विनेश फोगाट का शैक्षणिक जीवन (Vinesh Phogat Education )

विनेश ने अपनी शिक्षा के सी एम सीनियर सेकेंडरी स्कूल, झोजु कलां, हरियाणा से पूर्ण की और आगे की पढ़ाई के लिए एमडीयू, रोहतक, हरियाणा में दाखिला लिया और वहीं से पूरी करी थी। कुश्ती के अलावा विनेश को किताबें पढ़ने का भी शौक है।

विनेश फोगाट का वैवाहिक जीवन (Vinesh Phogat Marriage)

विनेश फोगाट का विवाह 13 दिसंबर 2018 में सोमवीर राठी से हुआ है। सोमवीर राठी भी एक प्रोफेशनल रेसलर हैं। इन दोनों की शादी love marriage हुई थी। पिछले कुछ वर्षों से ये दोनों एक दूसरे के साथ प्रेम संबंध में थे और अपने कैरियर मे पूर्णतः सफल होने के बाद ही इन्होंने शादी करने का फैसला लिया। आश्चर्य जनक बात ये है कि विनेश फोगाट और सोमवीर राठी ने अपनी शादी में 7 की जगह 8 फेरे लिए थे और 8वां फेरा मे उन्होने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ और बेटी खिलाने की शपथ ली थी।

विनेश फोगाट का रेसलिंग कैरियर (Vinesh Phogat Carrier)

विनेश का जन्म भले ही पहलवान घराने मे हुआ था परन्तु शुरुआत में उन्हे पहलवानी में जरा भी रुचि नहीं थी। लेकिन पहलवानों के माहौल में बड़ी हुई विनेश फोगाट को कब कुश्ती मे रुचि आने लगी उन्हे पता ही नहीं चला उनकी रुचि धीमे-धीमे तब बढ़ने लगी जब उनको पहलवानी में उपलब्धियां हासिल होने लगी। मगर ये सफर उनके लिए आसान ना था।

जिस गांव में वो रहती थी वहां पर कुश्ती का प्रचलन नहीं था खास कर के महिलाओं के लिए तो बिल्कुल नहीं था। लेकिन विनेश के चाचा जी ने अपनी बच्चियों को कुश्ती सिखाई इसके चलते गांव वालों ने उन्हें गांव निकाला दे दिया और कहा या तो कुश्ती करवाओ या ये गांव छोड़ दो। तब उन्होंने कुश्ती को प्राथमिकता देते हुए कुश्ती को चुना और गांव को छोड़ दिया था। उसके बाद कुश्ती का प्रशिक्षण शुरू किया था।

इतनी परेशानियां आने के बाद भी विनेश रुकी नहीं और अपने खेल को जारी रखा था और 19 वर्ष की आयु में अपनी कुश्ती के कैरियर को आगे बढ़ाया। अपने चाचा जी से कुश्ती की कला सीखते हुए उन्होंने बहुत नाम भी कमाया था। 2013 में आयोजित एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप जोकि न्यू दिल्ली में आयोजित हुई थी वहां पर उन्होंने कांस्य पदक अपने नाम किया था। ये कुश्ती 52kg भार वर्ग में खेली गई थी।

विनेश फोगाट का रियो ओलंपिक में प्रदर्शन (Rio Olympic)

विनेश फोगाट ने वर्ष 2016 मे आयोजित रियो ओलंपिक में काफी अच्छा प्रदर्शन किया था और स्वर्ण पदक जितने के लिए अपनी पूरी जान लगा दी थी। मगर क्वार्टरफाइनल मुकाबले में विनेश की किस्मत साथ नहीं दी थी और वे चोटिल हो गई थी और वो चोट थोड़ी गहरी थी जिसकी वज़ह से विनेश को स्ट्रेचर पर ले जाया गया था और उनकी सर्जरी हुई थी और सर्जरी के 5 महीने बाद कुश्ती की मैट पर वापस आ गई थी।

विनेश फोगाट का टोक्यो ओलंपिक में प्रदर्शन (Olympic Games Tokyo)

विनेश फोगाट ने टोक्यो ओलंपिक में बहुत अच्छा प्रदर्शन करते हुए 53 किलोग्राम भार वर्ग की कुश्ती में स्वीडन की महिला पहलवान सोफिया मैगडेलेना मैटसन को पहले ही राउंड में 7-1 से हरा दिया था और इसी के साथ विनेश फोगाट अब क्वार्टरफाइनल मे अपनी जगह बना ली थी। तभी करोड़ों देशवासियों की बस इतनी मनोकामना थी कि विनेश फोगाट स्वर्ण पदक जीते और देश का नाम रोशन करें। लेकिन क्वार्टरफाइनल मुक़ाबले में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। वहां पर बेलारूस की Vanesa kaladzinskyaya ने विनेश को 3-9 से हरा दिया था।

इन्हें भी पढ़े :  
>  मैग्निफिसेंट मैरी’ मैरी कॉम का जीवन परिचय
>  लवलीना बोरगोहेन का जीवन परिचय
> भारत के शेरशाह विक्रम बत्रा की कहानी

विनेश फोगाट के अवॉर्ड्स एवं उपलब्धियां (vinesh Phogat Awards)

विनेश फोगाट ने अपने जीवन में कई सारे मेडल्स और अवॉर्ड्स जीते हैं आइए बिंदुओ के सहारे विस्तार से जानते है –

  • 2013 में आयोजित एशियाई चैंपियनशिप जोकि दिल्ली में आयोजित हुई थी जिसमें विनेश ने कांस्य पदक अपने नाम किया था। इसी साल साउथ अफ्रीका के जोहांसबर्ग में आयोजित राष्ट्रमंडल चैंपियनशिप में रजत पदक अपने नाम किया।
  • वर्ष 2014 में आयोजित एशियाई खेलो जोकि  इंचियोन मे आयोजित हुआ था उसमे भी उन्होंने कांस्य पदक अपने नाम किया था। इसी साल ग्लासगो मे अयोजित कॉमनवेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक जीता था।
  • वर्ष 2015 में आयोजित एशियाई चैंपियनशिप में उन्होंने रजत पदक जीता था।
  • वर्ष 2017 में आयोजित नेशनल कुश्ती चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता था।
  • वर्ष 2018 में आयोजित एशियाई चैंपियनशिप में उन्होंने रजत पुरस्कार अपने नाम किया था। जोकि बिश्केक मे आयोजित हुआ था।
  • वर्ष 2018 में आयोजित कॉमनवेल्थ गम्स में स्वर्ण स्वर्ण पदक अपने नाम किया जोकि गोल्ड कोस्ट में आयोजित हुआ था।
  • वर्ष 2019 में आयोजित विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप जोकि कज़ाकिस्तान मे आयोजित हुई थी वहां पर उन्होंने कांस्य पदक अपने नाम किया था। इसके अलावा एशियाई चैंपियनशिप जोकि शीआन में आयोजित हुई थी वहां पर कांस्य पदक अपने नाम किया था।
  • वर्ष 2020 में आयोजित एशियाई चैंपियनशिप में उन्होंने कांस्य पदक अपने नाम किया था। जोकि न्यू दिल्ली में आयोजित हुई थी।
  • वर्ष २०२२ बर्मिंघम में आयोजित कॉमन वेल्थ गेम्स 2022 में कुश्ती के मुकाबले में भारत के लिए गोल्ड मेडल जीता है। यह भारत के लिए 11वां गोल्ड मेडल है।

विनेश फोगाट के नेशनल अवॉर्ड (Vinesh Phogat National & World Awards)

> कुश्ती में विनेश फोगाट के प्रदर्शन को देखते हुए भारत सरकार ने उन्हें वर्ष 2016 अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया था।
> 2018 में पद्श्री अवार्ड प्राप्त किया।
> 2019 में लॉरेयस वर्ल्ड अवार्ड (Lawrence world sports award) के लिये भी नामांकित कि जा चुकी हैं। विनेश इसके अवार्ड के लिये नामित होने वाली वाली पहली भारतीय महिला है।
> वर्ष 2020 में राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड जीत कर उन्होंने अपने चाचा जी व सम्पूर्ण हरियाणा का नाम रोशन किया था।

निष्कर्ष

आज के इस लेख में हमने विनेश फोगाट का जीवन परिचय (Vinesh phogat Biography in hindi) लेख में जाना और देखा कि कैसे उन्होंने अथाह परिश्रम करते हुए अपना नाम पहलवानी (कुश्ती) में कमाया। यदि आपको इनके जीवन से प्रेरणा मिली है तो इस लेख को अपने दोस्तों व रिश्तेदारों के साथ अवश्य शेयर करें।

इन्हें भी पढ़े :  
>  मनिका बत्रा भारतीय महिला टीम की टेबल टेनिस की सबसे दिग्गज खिलाड़ी
> औलम्पिक में रजत मैडल हासिल करने वाली पहली महिला वेटलिफ्टर मीराबाई चानू 

विनेश फोगाट से सम्बिंधित प्रश्न (FAQ’s)

विनेश फोगाट कौन सा खेल खेलती हैं?

फ्रिस्टाईल कुश्ती

विनेश फोगाट की उम्र क्या हैं?

इनका जन्म 25 अगस्त 1994 को हरियाणा में हुआ। 2021 में इनकी आयु 26 वर्ष है।

क्या विनेश फोगाट की शादी हुई हैं?

विनेश फौगाट की शादी 13 दिसंबर 2018 को हुई ।

उनके पति का नाम क्या है?

विनेश फौगाट के पति का नाम सोमवीर राठी है जोकि एक मशहूर पहलवान हैं।

विनेश जाट किस जाति व समुदाय से हैं?

जाट समुदाय

विनेश फोगाट की सम्पत्ति (Net Worth)कितनी है?

$ 5 Million (Approx 37 Cr. )

Leave a Comment